पाकिस्तान ने फिर अलापा कश्मीर राग, अनुच्छेद 370 को लेकर कही ये बात

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान (फाइल फोटो)

India- Pakistan: यूसुफ ने पांच अगस्त 2019 के फैसले का जिक्र करते हुए कहा कि कश्मीर में ‘गलतियों को पलटने’ के बाद बातचीत की प्रक्रिया शुरू करने की जिम्मेदारी भारत पर है.

  • Share this:
    इस्लामाबाद. पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) मोईद यूसुफ ने बुधवार को कहा कि जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) में अपनी कार्रवाई को ‘‘पलटकर’’ इस्लामाबाद (Islamabad) के साथ वार्ता शुरू करने की जिम्मेदारी भारत पर है. भारत ने पांच अगस्त 2019 को अनुच्छेद 370 (Article 370) के तहत जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म कर दिया और इसे दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांट दिया. एक आधिकारिक बयान के मुताबिक यूसुफ ने बदलते क्षेत्रीय परिदृश्य में पाकिस्तान की भूमिका, पाकिस्तान-अमेरिकी संबंधों, पाकिस्तान-भारत संबंधों और अमेरिकी सेना की वापसी के बाद अफगानिस्तान में बनी स्थिति के प्रभाव पर रक्षा और राष्ट्रीय सुरक्षा पर सीनेट समिति को जानकारी दी.

    यूसुफ ने पांच अगस्त 2019 के फैसले का जिक्र करते हुए कहा कि कश्मीर में ‘गलतियों को पलटने’ के बाद बातचीत की प्रक्रिया शुरू करने की जिम्मेदारी भारत पर है. भारत का कहना है कि संविधान के अनुच्छेद 370 से संबंधित मुद्दा पूरी तरह से देश का आंतरिक मामला है. भारत ने पाकिस्तान को स्पष्ट कर दिया है कि वह आतंक, शत्रुता और हिंसा से मुक्त वातावरण में इस्लामाबाद के साथ सामान्य पड़ोसी संबंध चाहता है.

    ये भी पढ़ें- केंद्र का राज्यों को निर्देश- निरस्त हो चुके IT एक्ट के सेक्शन 66A के तहत दर्ज न करें केस

    अमेरिका के साथ संबंध सुधारने में लगा पाकिस्तान
    यूसुफ ने अमेरिका के साथ संबंधों के बारे में कहा कि पाकिस्तान-अमेरिका के संबंधों के लिए एक व्यापक खाका विकसित किया जा रहा है, जिसमें वाणिज्य और व्यापार में सहयोग, टीका निर्माण, जलवायु परिवर्तन और सैन्य संबंधों के साथ-साथ क्षेत्रीय आर्थिक संपर्क भी शामिल है. अफगानिस्तान के बारे में उन्होंने कहा कि एक समावेशी राजनीतिक समझौते को बढ़ावा देने के लिए पाकिस्तान का दृष्टिकोण बहुत स्पष्ट है. यह सुनिश्चित करना है कि अफगान क्षेत्र का इस्तेमाल पाकिस्तान के खिलाफ नहीं हो और पाकिस्तान यह सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है कि उसके क्षेत्र का इस्तेमाल किसी अन्य देश के खिलाफ ना हो.

    (Disclaimer: यह खबर सीधे सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है. इसे News18Hindi टीम ने संपादित नहीं किया है.)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.