बाइडन प्रशासन में भारतीय-अमेरिकियों की ऐतिहासिक नियुक्तियां, कहा- वे संभाल रहे देश की कमान

50 दिनों से कम समय में उनके प्रशासन में कम से कम 55 भारतीय-अमेरिकी बड़े पदों पर नियुक्त किए गए हैं. (फोटो सौ. न्यूज18 इंग्लिश)

50 दिनों से कम समय में उनके प्रशासन में कम से कम 55 भारतीय-अमेरिकी बड़े पदों पर नियुक्त किए गए हैं. (फोटो सौ. न्यूज18 इंग्लिश)

Indian-American in US Administration: अब तक अमेरिका (US) के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के कार्यकाल को सबसे ज्यादा भारतीय-अमेरिकियों को शामिल करने का गौरव हासिल था.डोनाल्ड ट्रंप के नेतृत्व वाले प्रशासन में भारतीय मूल के अमेरिकियों को काफी मौके मिले.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 5, 2021, 10:33 AM IST
  • Share this:
वॉशिंगटन. अमेरिका में हाल ही में राष्ट्रपति पद संभालने वाले जो बाइडन (Joe Biden) का भारतवंशियों पर खास भरोसा नजर आ रहा है. 50 दिनों से कम समय में उनके प्रशासन में कम से कम 55 भारतीय-अमेरिकी (Indian-American) बड़े पदों पर नियुक्त किए गए हैं. बाइडन का भी कहना है कि भारतीय-अमेरिकी देश की कमान संभाल रहे हैं. खास बात है कि नासा (NASA) के लिए स्पीच राइटर से लेकर प्रशासन के लगभग सभी क्षेत्रों में भारतवंशियों की मौजूदगी है.

बाइडन मंगल पर पर्सीवरेंस रोवर की ऐतिहासिक लैंडिंग में शामिल वैज्ञानिकों से चर्चा कर रहे थे. इस दौरान नासा के मार्स मिशन में बड़ी भूमिका निभाने वाली स्वाति मोहन भी शामिल थीं. अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा 'भारतीय मूल के अमेरिकी देश की कमान संभाल रहे हैं. आप (स्वाति मोहन), मेरी उपराष्ट्रपति (कमला हैरिस), मेरे स्पीच राइटर (विनय रेड्डी).' बीती 20 जनवरी को अमेरिकी के 46वें राष्ट्रपति के तौर पर शपथ लेने वाले बाइडन ने कम से कम 55 भारतीय-अमेरिकियों को प्रशासन में बड़ी भूमिका देकर इतिहास रच दिया है.

हालांकि, इन 55 लोगों में उपराष्ट्रपति कमला हैरिस और नीरा टंडन का नाम शामिल नहीं है. टंडन ने बीते दिनों व्हाइट हाउस ऑफ मैनेजमेंट एंड बजट के निदेशक पद के लिए दाखिल नामांकन वापस ले लिया है. खास बात है कि इनमें से करीब आधी महिलाए हैं. बाइडन प्रशासन ने शुरुआती 50 दिनों में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में भारतीय-अमेरिकियों को शामिल किया है.



अब तक अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के कार्यकाल को सबसे ज्यादा भारतीय-अमेरिकियों को शामिल करने का गौरव हासिल था. हालांकि, डोनाल्ड ट्रंप के नेतृत्व वाले प्रशासन में भारतीय मूल के अमेरिकियों को काफी मौके मिले. ट्रंप प्रशासन ने पहली बार नेशनल सिक्युरिटी काउंसिल के अंदर और कैबिनेट दर्जे के साथ भारतीय-अमेरिकी को नियुक्त किया था.

बाइडन ने बीते दिनों भारतीय-अमेरिकी माजू वर्गीज को अपना उप सहायक और व्हाइट हाउस सैन्य कार्यालय (डब्ल्यूएचएमओ) का निदेशक नियुक्त किया है. इससे पहले वर्गीज बाइडन के चुनाव अभियान एवं शपथ ग्रहण समिति में भी अहम सदस्य के तौर पर काम कर चुके हैं. वर्गीज ने नियुक्ति की घोषणा के बाद व्हाइट हाउस के अराइवल लाउंज में खींची गई तस्वीर के साथ ट्वीट किया, ‘माजू वर्गीज अब राष्ट्रपति के उप सहायक एवं व्हाइट हाउस सैन्य कार्यालय के निदेशक हैं.’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज