भारतीय सेना ने चीनी सैनिक को LAC पर पकड़ा, पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने की पुष्टि

भारतीय सेना ने चीन के एक सैनिक को एलएसी पर पकड़ा है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
भारतीय सेना ने चीन के एक सैनिक को एलएसी पर पकड़ा है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

भारतीय सेना (Indian Army) ने सोमवार को कहा था कि उसने पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के एक सैनिक को पूर्वी लद्दाख के डेमचोक सेक्टर में सोमवार को तब पकड़ा जब वह LAC पर भटक गया था. सैनिक की पहचान कर्नल के रूप में हुई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 20, 2020, 2:53 PM IST
  • Share this:
बीजिंग. पूर्वी लद्दाख में भारत-चीन सीमा विवाद के बीच भारतीय सेना ने एक चीनी सैनिक को पकड़ा है. चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) ने इस बात की पुष्टि की है कि उसका एक जवान रविवार रात को वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर 'लापता' हो गया है. चीन ने अब प्रोटोकॉल के अनुसार भारतीय सेना से उसके सैनिक को वापस करने का अनुरोध किया है. भारतीय सेना ने सोमवार को कहा था कि उसने पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के एक सैनिक को पूर्वी लद्दाख के डेमचोक सेक्टर में सोमवार को तब पकड़ा जब वह LAC पर भटक गया था. सैनिक की पहचान कर्नल के रूप में हुई है.

लद्दाख में भारतीय सेना ने चीनी सैनिक को पकड़ा

चीनी सेना पीएलए की ओर अपने लापता सैनिक के ठिकाने के बारे में पूछताछ करने के लिए भारतीय सेना को अनुरोध किया है. पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच चल रहे सीमा से जुड़े तनाव के बीच इस सैनिक को पकड़ने की यह घटना तब सामने आई है जहां दोनों देशों ने अपने अपने सैनिकों और हथियारों की भारी तैनाती की हुई है.



चीनी सेना ने की भारतीय सेना से मदद की गुहार
चीनी सेना की पश्चिमी थियेटर कमांड के प्रवक्ता कर्नल झांग शुइली ने 18 अक्टूबर की रात को लापता पीएलए सैनिक पर एक बयान जारी किया. बयान में यह कहा गया है कि हमारा एक सिपाही उस वक्त लापता हो गया, जब वह रात एक चरवाहे को उसके खोए हुए याक को ढूंढने में मदद कर रहा था. चीनी सेना के प्रवक्ता ने अपने बयान में लापता सिपाही की पहचान नहीं की है.

भारतीय सेना चीनी सैनिक की खोजने में मदद करेगा

प्रवक्ता कर्नल झांग ने बयान में यह भी कहा कि इस घटना के तुरंत बाद ही चीनी सीमा रक्षकों ने भारतीय सेना को इस विषय में सूचना दे दी थी और उम्मीद जताई है कि भारतीय सेना चीनी सैनिक को खोजने और उसे बचा कर सामने लाने में मदद करेगा. चीनी प्रवक्ता झांग ने कहा कि भारतीय सेना ने लापता चीनी सैनिक को खोजने में मदद करने का वादा किया था और उसे खोजने के बाद चीनी सैनिक को वापस करने का भी वादा किया था. उन्होंने कहा कि भारतीय सेना ने चीनी सेना को आश्वासन दिया था कि चीनी सैनिक को मेडिकल जांच के बाद लौटा दिया जाएगा .

ये भी पढ़ें: US ELECTION 2020: अंतिम डिबेट से पहले ट्रंप ने जताई आपत्ति, विषय बदले जाने की मांग की 

लास वेगास में पादरी ने ट्रंप से कहा- आप प्रभु की आंखों के तारे हैं, दोबारा राष्ट्रपति बनेंगे

चीनी प्रवक्ता झांग ने कहा कि हमें उम्मीद है कि भारतीय पक्ष अपनी प्रतिबद्धताओं का सम्मान करेगा, लापता सैनिक को तुरंत चीन स्थानांतरित करेगा, सैन्य कमांडर-स्तरीय वार्ता के सातवें दौर की सर्वसम्मति के कार्यान्वयन को बढ़ावा देने के लिए चीन के साथ काम करेगा और संयुक्त रूप से सीमावर्ती क्षेत्रों में शांति बनाए रखेगा. गौरतलब है कि सेना ने बताया कि चीनी सैनिक की पहचान कॉर्पोरल वांग या लान्ग के रूप में की गई है. उसे ऑक्सीजन, भोजन और गर्म कपड़े सहित जरूरी मेडिकल मदद भी मुहैया कराई गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज