अपना शहर चुनें

States

भारतीय विदेश सचिव पहुंचे काठमांडू, भारत-नेपाल के बीच होगी एक और हाई-प्रोफाइल बैठक

भारत के विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला (फाइल फोटो)
भारत के विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला (फाइल फोटो)

भारत और नेपाल (India And Nepal) में तनाव के बीच विदेश सचिव हर्ष श्रृंगला (Harsh Shringla) नेपाल पहुंचे हैं जहां दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों पर चर्चा होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 26, 2020, 4:50 PM IST
  • Share this:
काठमांडू. भारत और नेपाल (India And Nepal) में सीमा विवाद के बीच होने वाली एक और हाई-प्रोफाइल बैठक के लिए भारत के विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला इसके लिए काठमांडू पहुंचे हैं. गौरतलब है कि भारत के आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे और RAW चीफ सामंत गोयल के नेपाल दौरे के बाद यह तीसरा हाई-लेवल दौरा है. वहीं, चीन ने भी फैसला किया है कि वह अपने रक्षा मंत्री को नेपाल भेजेगा.

काठमांडू पहुंचकर श्रृंगला ने कहा, 'पहले ही आना चाहता था लेकिन कोविड की वजह से आ नहीं सके. यहां आकर अच्छा लग रहा है. हमारा रिश्ता बहुत मजबूत है और हमारी कोशिश और आगे जाने की होगी.' इस दौरे पर वह अपने नेपाली समकक्ष से मिलेंगे और दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय सहयोग पर चर्चा होगी. आधिकारिक बयान में कहा गया है कि भारत और नेपाल के साथ ऐतिहासिक संबंध रहे हैं. हाल के सालों में द्विपक्षीय संबंध मजबूत हुए हैं और भारत की मदद से नेपाल में इन्फ्रास्ट्रक्चर और क्रॉस बॉर्डर कनेक्टिविटी प्रॉजेक्ट पूरे हुए हैं.

ये भी पढ़ें: OIC में पाकिस्तान को बड़ा झटका, नहीं होगी कश्मीर मुद्दे पर चर्चा



चीन की है नेपाल पर पूरी नजर
सिक्यॉरिटी अनैलिस्ट और कॉलमिस्ट गेजा शर्मा वाघले ने कहा है कि चीन ने नेपाल पर करीब से नजर रखी है. खासकर भारत के साथ सीमा विवाद के मद्देनजर. वाघले का कहना है कि चीनी राजनीतिक, कूटनीतिक सैन्य रुख से सक्रिय हो रहे हैं. भारत के विदेश सचिव के दौरे के बाद चीन के दौरे की कूटनातिक और सैन्य अहमियत भी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज