कोरोना के मरीजों का इलाज करने वाले भारतीय डॉक्टर यूके के होटल में मृत पाए गए

महिला आठ माह की गर्भवती थी. उसकी मौते के बाद बच्चे ने भी मां के पेट में दम तोड़ दिया. (सांकेतिक फोटो)
महिला आठ माह की गर्भवती थी. उसकी मौते के बाद बच्चे ने भी मां के पेट में दम तोड़ दिया. (सांकेतिक फोटो)

कोरोना (Coronavirus) के मरीजों का इलाज करने वाले भारतीय मूल के एक डॉक्टर (Indian Origin Doctor) यूके के एक होटल में मृत पाए गए हैं.

  • Share this:
लंदन: यूके (UK) के हॉस्पिटल में कोरोना (Coronavirus) के मरीजों का इलाज करने वाले एक भारतीय मूल के डॉक्टर (Doctor) होटल में मृत पाए गए हैं. लॉकडाउन के दौरान वो डॉक्टर अपने घर से अलग होटल में आइसोलेशन में रह रहे थे.

डॉक्टर राजेश गुप्ता नाम के डॉक्टर यूके के नेशनल हेल्थ सर्विस में अपनी सेवाएं दे रहे थे. वो साउथ ईस्ट इंग्लैंड के बर्कशायर में वेक्सहम हॉस्पिटल में कार्यरत थे. उन्हें इसी हफ्ते होटल में मृत पाया गया. उनकी मौत की वजहों की अभी पूरी जानकारी सामने नहीं आई है.

एनएचएस ने बयान जारी कर जताया दुख
एनएचएस फाउंडेशन ट्रस्ट की तरफ इस बारे में एक बयान जारी किया गया है. बयान में कहा गया है कि हमें दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि हमने अपना एक साथी डॉक्टर राजेश गुप्ता को खो दिया है. पिछले दिनों उनकी मौत हो गई है. शुक्रवार को इस बारे में बयान जारी किया गया.
एनएचएस ट्रस्ट ने जानकारी दी है कि डॉ राजेश गुप्ता कंसलटेंट के तौर पर वेक्सहम हॉस्पिटल में अपनी सेवाएं दे रहे थे. सोमवार दोपहर को उन्हें उनके होटल में मृत पाया गया. वो अपने परिवार को कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए होटल में अलग रह रहे थे. कोरोना वायरस की महामारी के दौरान उन्होंने अपनी महत्वपूर्ण सेवाएं दीं.



डॉ राजेश गुप्ता ने लिखी थीं कई किताबें
डॉक्टर राजेश गुप्ता अपने सहयोगियों के बीच काफी लोकप्रिय थे. उन्हें एक बेहतरीन डॉक्टर माना जाता था. सहयोगियों ने बताया है कि वो डॉक्टर होने के साथ ही वो एक कवि, पेंटर और फोटोग्राफर भी थे.

वो अपनी दयालुता और विनम्रता के लिए जाने जाते थे. उन्होंने कई किताबें भी लिखी हैं और कई पब्लिकेशन के लिए काम किया है. ट्रस्ट ने उनकी मौत पर गहरा अफसोस जताया है.

डॉक्टर राजेश गुप्ता ने जम्मू से पढ़ाई की थी. वो अपने पीछे अपनी पत्नी और एक जवान बेटे को छोड़ गए हैं.

ये भी पढ़ें:

जमीन खिसकने से मलबे में दफन हो गया नवजात, गांववालों ने जिंदा निकाला

दुनिया में कोरोना Live : ब्राजील में अब तक 27,944 की मौत, रेड जोन से बाहर हुआ पेरिस

डेनमार्क-नॉर्वे में खोले जाएंगे बॉर्डर, ऑस्ट्रिया में मास्क जरूरी नहीं

US ने फिर उड़ाया WHO का मज़ाक, कहा- हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन खाकर फिट हैं ट्रंप
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज