Home /News /world /

कोरोना हुआ तो लंदन में भारतीय उबर ड्राइवर को घर से निकाला, पत्नी ने बताई दर्दनाक मौत की कहानी

कोरोना हुआ तो लंदन में भारतीय उबर ड्राइवर को घर से निकाला, पत्नी ने बताई दर्दनाक मौत की कहानी

लंदन में कोरोना के चलते एक भारतीय उबर ड्राइवर की दर्दनाक मौत की कहानी सामने आई है.
(सांकेतिक तस्वीर)

लंदन में कोरोना के चलते एक भारतीय उबर ड्राइवर की दर्दनाक मौत की कहानी सामने आई है. (सांकेतिक तस्वीर)

लंदन (London) में एक भारतीय उबर ड्राइवर (Uber Driver) की कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण के चलते दर्दनाक मौत की कहानी सामने आई है.

    लंदन: ब्रिटेन (Britain) में एक भारतीय उबर ड्राइवर (Uber Driver) की दर्दनाक मौत की कहानी सामने आई है. 44 साल का भारतीय शख्स पिछले 22 वर्षों से लंदन में टैक्सी चला रहा था. पिछले दिनों उसे कोरोना वायरस का संक्रमण हुआ तो मकान मालिक ने उसे घर से निकाल दिया. हफ्तों तक वो अपनी टैक्सी में सोया. आखिर में बिना परिवार से मिले हॉस्पिटल में उसकी मौत हो गई. उबर ड्राइवर की पत्नी ने अपने पति की दर्दनाक मौत की कहानी बयां की है.

    बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक 44 साल का राजेश जयासीलन पिछले 22 वर्षों में लंदन में रहकर टैक्सी चला रहा था. उसकी पत्नी मैरी जयासीलन ने बताया है कि कोरोना के संक्रमण की वजह से हालात बिगड़ने पर राजेश को लंदन के नॉर्थविक पार्क हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया था.

    हॉस्पिटल में उसे वेंटिलेटर पर रखा गया. लंदन में वो मौत से जंग लड़ रहा था और 5000 हजार मील दूर बेंगलुरु में उसका परिवार असहाय था. राजेश बार-बार अपने परिवार को दिलासा देता रहा कि वो ठीक हो जाएगा. राजेश और मैरी के दो बच्चे हैं. मैरी और उनके दोनों बच्चे बेंगलुरु में ही रहते हैं.



    राजेश ने आखिरी बार कहा था- उसे डर लग रहा है
    राजेश की पत्नी मैरी का कहना है कि वो युवा और बिल्कुल स्वस्थ था. लेकिन कोरोना के संक्रमण की चपेट में आने के बाद उसे बचाया नहीं जा सका. आखिरी बार उसने अपनी पत्नी से कहा था कि उसे डर लग रहा है. इसके एक दिन बाद राजेश की मौत हो गई.

    राजेश और मैरी की शादी 24 फरवरी 2014 को हुई थी. दोनों ने किराए पर साउथ बेंगलुरु के हुलीमावू इलाके में घर लिया था. शादी से पहले राजेश नॉर्थ लंदन के हैरो में उबर टैक्सी चलाया करता था. वो रात से लेकर सुबह तक लंदन में टैक्सी चलाता था ताकि भारत में उसके परिवार की रोजी रोटी चलती रहे. वो अपने काम को लेकर खुश था.

    राजेश की पत्नी मैरी ने बताया है कि वो पिछले 22 वर्षों से लंदन में रहकर टैक्सी चला रहा था. बीच-बीच में वो भारत आया-जाया करता था. वो अक्सर लंदन की खूबसूरती के बारे में बताया करता था. राजेश का परिवार खुश था. उसके 6 और 4 साल के दो बच्चे हैं. मैरी का कहना है कि वो विनम्र और सज्जन पुरुष था.

    राजेश का सपना था कि लंदन से कमाई कर वो भारत में हमेशा के लिए सेटल हो जाए. लेकिन उसका सपना अधूरा ही रह गया. वो पिछले 15 जनवरी को वापस लंदन लौटा था. इसके दो हफ्ते से भी कम वक्त में यूके में वायरस संक्रमण का पहला मामला सामने आया.

    कोरोना हुआ तो मकान मालिक ने घर से निकाल दिया
    उस वक्त तक राजेश ज्यादा परेशान नहीं था. दुकानें और रेस्टोरेंट खुले थे. लेकिन मार्च महीने में हालात बिगड़ने लगे. लोगों के बीच वायरस का संक्रमण तेजी से फैलने लगा. 23 मार्च को प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने पूरे ब्रिटेन में लॉकडाउन लगा दिया. दूसरे उबर ड्राइवरों की तरह राजेश ने कुछ हफ्तों तक काम किया. उसने आखिरी बार 25 मार्च तक काम किया था.

    इसके बाद उसमें भी वायरस संक्रमण के लक्षण दिखने लगे. वो हॉस्पिटल में भर्ती हुआ, जहां उसे पॉजिटिव घोषित किया गया. मेडिकल स्टाफ ने उसे सेल्फ आइसोलेट होने को कहा और तबियत ज्यादा बिगड़ने पर हॉस्पिटल में भर्ती करने को कहा.

    राजेश अपने किराये के घर पर लौटा. लेकिन मकान मालिक ने दरवाजा नहीं खोला. वो बार-बार मिन्नतें करता रहा लेकिन मकान मालिक का दिल नहीं पसीजा. मकान मालिक कहना था कि उससे वायरस का संक्रमण उसके परिवार में फैल सकता है. मकान मालिक ने उसके रूम के ताले को बदल दिया था.

    मजबूरन राजेश को अगले कई दिनों तक अपनी टैक्सी में ही सोना पड़ा. इस दौरान उसकी हालत बिगड़ने लगी. उसे खाने-पीने को भी कुछ नहीं मिल रहा था.

    इसके बाद तबियत ज्यादा बिगड़ने पर वो खुद टैक्सी चलाकर हॉस्पिटल तक गया. हॉस्पिटल से उसने अपने परिवार को वीडियो कॉल किया. राजेश की हालत देखकर उसकी परिवारवालों का दिल भर आया.

    आखिर में 11 अप्रैल को डॉक्टरों ने परिवार को सूचना दी कि राजेश की हालत गंभीर बनी हुई है. आखिरी बार हॉस्पिटल वालों ने परिवार को दिखाने के लिए वीडियो कॉल किया. राजेश वेंटिलेटर पर बेसुध था. इसके दो घंटे बाद राजेश की मौत हो गई.

    ये भी पढ़ें:

    36 दिन बंद रहने के बाद फिर खुली दुनिया की सबसे बड़ी कार फैक्ट्री, बना चुकी है 4.5 करोड़ कारें
    संभल कर! मास्क नहीं पहना तो इस देश में लगेगा 8 लाख रुपए का फाइन
    अमेरिका में 57 हजार के करीब पहुंचा मौत का आंकड़ा, 10 लाख से ज्यादा संक्रमित
    दुनिया में कोरोना Live: 2021 की गर्मियों तक नहीं थमा संक्रमण तो ओलंपिक होंगे रद्द- जापान

    Tags: Britain, Coronavirus, COVID 19

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर