इंडोनेशियाः गुनाह कुबूल करवाने के लिए पुलिस ने संदिग्ध के गले में डाल दिया जिंदा सांप

वीडियो के एक हिस्से में संदिग्ध को आंखें खोलने का आदेश देते हुए एक तेज आवाज आती है. वहीं एक अन्य हिस्से में उसे धमकाया जा रहा है कि सांप को उसके मुंह में या पैंट के अंदर डाल दिया जाएगा.

News18Hindi
Updated: February 11, 2019, 2:06 PM IST
इंडोनेशियाः गुनाह कुबूल करवाने के लिए पुलिस ने संदिग्ध के गले में डाल दिया जिंदा सांप
ट्विटर पर शेयर किए गए वीडियो का स्क्रीन शॉट
News18Hindi
Updated: February 11, 2019, 2:06 PM IST
इंडोनिशिया पुलिस का एक वीडियो वायरल हो रहा है. इस वीडियो में दिख रहा है कि एक संदिग्ध से उसका गुनाह कुबूल करवाने के लिए पुलिसवालों ने उसके गले में जिंदा सांप लपेट दिया. वीडियो सामने आने के बाद पुलिस ने माफी मांगी है और घटना में शामिल पुलिसवालों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई के निर्देश दिए हैं.

वीडियो में नजर आ रहा है कि पुलिस एक संदिग्ध से चोरी हुए मोबाइल फोन के बारे में पूछताछ कर रही है. संदिग्ध को एक कुर्सी पर बैठाया गया है और उसके हाथ बंधे हुए हैं. वीडियो में एक अधिकारी उसकी तरफ सांप फेंकता दिख रहा है, जिसके बाद संदिग्ध डर से चीखने लगता है.

वेलेंटाइन डे पर सांप को दे सकते हैं अपने एक्स ब्वॉयफ्रेंड या गर्लफ्रेंड का नाम, यहां पढ़ें पूरा मामला



संदिग्ध से पुलिस ने पूछा, 'अब तक कितनी बार मोबाइल फोन चुरा चुके हो?' वह जवाब देता है- दो बार.




वीडियो के एक हिस्से में संदिग्ध को आंखें खोलने का आदेश देते हुए एक तेज आवाज आती है. वहीं एक अन्य हिस्से में उसे धमकाया जा रहा है कि सांप को उसके मुंह में या पैंट के अंदर डाल दिया जाएगा.

जयविजय पुलिस के मुखिया टोनी आनंद स्वदय ने इस घटना पर माफी मांगते हुए कहा, "जांचकर्ता ने प्रोफेशनल तरीके से पूछताछ नहीं की." घटना में शामिल अधिकारियों से लिखति में माफी मांगी गई है. वहीं, पुलिस ने बताया कि सांप जहरीला नहीं था. उन्होंने बताया कि संबंधित अधिकारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की गई है."

पापुआ पुलिस के प्रवक्ता अहमद मुस्तफा कमाल ने कहा कि मामले की जांच पुलिस इंटरनल अफेयर्स यूनिट कर रही है और यदि यह पाया गया कि कानून या कोड ऑफ कंडक्ट का उल्लंघन किया गया है तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर