Home /News /world /

इतनी तेजी से 24 देशों में कैसे फैल गया ओमिक्रॉन? WHO ने बताया सबकुछ

इतनी तेजी से 24 देशों में कैसे फैल गया ओमिक्रॉन? WHO ने बताया सबकुछ

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक ट्रेडोस एडनॉम घेबियस (AP)

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक ट्रेडोस एडनॉम घेबियस (AP)

Coronavirus New Variant Omicron: विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक ट्रेडोस एडनॉम घेबियस ने कहा, 'किसी को भी कुछ नया करने की जरूरत नहीं है. कोरोना के कुछ हथियार पहले से ही मौजूद हैं, सिर्फ सही समय पर सही तरीके से उनका इस्तेमाल होना जरूरी है.' उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'डब्ल्यूएचओ के 5-6 क्षेत्रों में से कम से कम 24 देशों में ओमिक्रोन के मामले पाए जा चुके हैं. इसके आंकड़े अभी और बढ़ेंगे. संगठन इसे काफी गंभीरता से ले रहा है.'

अधिक पढ़ें ...

    जिनेवा. कोरोना वायरस (Coronavirus New Variant) के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron Variant) को लेकर दुनियाभर के वैज्ञानिक रिसर्च में जुट गए हैं. एक हफ्ते में ओमिक्रॉन 24 देशों में फैल चुका है. 24 देशों में अब तक इस वेरिएंट से 210 लोग संक्रमित हुए हैं. वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (WHO) द्वारा तेजी से फैलने में सक्षम कोरोना के इस नए वैरिएंट (B.1.1.529) को वेरिएंट ऑफ कंसर्न (VOC) घोषित किए जाने के बाद से ही हड़कंप मचा है. ओमिक्रॉन को डेल्टा वेरिएंट से भी अधिक तेजी से फैलने वाला वेरिएंट कहा जा रहा है. इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन का मानना है कि पूरी दुनिया में कोरोना महामारी को लेकर एक ऐसा ट्रेंड बना हुआ है, जहां पर ना सिर्फ धीमा टीकाकरण देखने को मिला है, बल्कि कोरोना टेस्टिंग भी काफी लो रह गई है. यही ट्रेंड कोरोना के कई वेरिएंट को ज्यादा ताकतवर बना देता है.

    विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक ट्रेडोस एडनॉम घेबियस ने कहा, ‘किसी को भी कुछ नया करने की जरूरत नहीं है. कोरोना के कुछ हथियार पहले से ही मौजूद हैं, सिर्फ सही समय पर सही तरीके से उनका इस्तेमाल होना जरूरी है.’ उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘डब्ल्यूएचओ के 5-6 क्षेत्रों में से कम से कम 24 देशों में ओमिक्रोन के मामले पाए जा चुके हैं. इसके आंकड़े अभी और बढ़ेंगे. संगठन इसे काफी गंभीरता से ले रहा है.’

    चीन में लॉकडाउन हटा तो एक दिन में 6 लाख से ज्यादा मिलेंगे कोविड केस

    उन्होंने कहा कि बाकी सभी देशों को भी इसे बेहद गंभीरता से लेना चाहिए. लेकिन ये वायरस हमें आश्चर्यचकित न कर दे. यही वायरस करता है और यह वही है जो यह वायरस करता रहेगा, जब तक हम इसे फैलते रहने देते हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक ट्रेडोस ने कहा कि संगठन लगातार ओमिक्रोन के बारे में मालूम कर रहा है, लेकिन ट्रांसमिशन पर इसके असर, इसकी गंभीरता और टेस्ट, वैक्सीन्स के इस पर असर के बारे में पता लगाना बाकी है.

    उन्होंने कहा कि कई डब्ल्यूएचओ के सलाहकार समूहों ने पिछले कुछ दिनों में बैठक की है ताकि सबूतों का परीक्षण किया जा सके और अध्ययन कर बाकी सवालों का जवाब हासिल किया जा सके. इससे पहले, संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी के प्रमुख ने ओमिक्रोन वैरिएंट के प्रसार को रोकने के लिए पिछले कुछ दिनों में देशों द्वारा उठाए गए उपायों की आलोचना की है.
    मंगलवार को बयान में डब्ल्यूएचओ के डायरेक्टर जनरल ने कहा कि वह बोत्सवाना और साउथ अफ्रीका में पाए गए इस नए वेरिएंट को लेकर बेहद चिंतित हैं. बता दें कि पिछले हफ्ते इस वैरिएंट के मिलने के बाद कई देशों ने साउथ अफ्रीकी देशों पर ट्रैवल बैन लगा दिया है.

    भारत में क्या है असर
    भारत में बुधवार को विदेशों से आए 3476 अंतरराष्ट्रीय यात्रियों में 6 कोरोना संक्रमित पाए गए. इसके बाद उनके सैंपल को जीनोमिक सिक्वेंसिंग के लिए लैब में भेज दिया गया है. खास बात है कि यात्री “एट रिस्क” देशों से आए हैं. यानी उन देशों से जिसे रिस्क की कैटेगरी में रखा गया है और कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के केस सामने आए हैं.

    US पहुंचा ओमिक्रॉन, वैक्सीन की दो डोज के बाद भी शख्स संक्रमित; जानें बाकी देशों का हाल
    आधी रात से शाम 4 बजे तक कुल 11 अंतरराष्ट्रीय उड़ानें “एट रिस्क” देशों से उतरीं. इनमें 3476 यात्री सवार थे. इन यात्रियों का जब आरटीपीसीआर टेस्ट किया गया तो 6 यात्री पॉजिटिव पाए गए. 30 नवंबर को अपडेट सूची के अनुसार, जोखिम वाले (एट रिस्क) देशों में यूरोपीय देश, ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बोत्सवाना, चीन, मॉरीशस, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे, सिंगापुर, हांगकांग और इज़राइल हैं. (एजेंसी इनपुट के साथ)

    Tags: 10 common symptoms of Coronavirus, Omicron variant

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर