लाइव टीवी

ईरान द्वारा जब्त ब्रिटिश जहाज स्टेना इंपैरो मुक्त होने के बाद पहुंचा दुबई, चालक दल में 18 भारतीय

भाषा
Updated: September 29, 2019, 4:28 AM IST
ईरान द्वारा जब्त ब्रिटिश जहाज स्टेना इंपैरो मुक्त होने के बाद पहुंचा दुबई, चालक दल में 18 भारतीय
ईरान के रेवोल्युशनरी गार्ड्स ने हरमुज जलडमरूमध्य में 19 जुलाई को इस पोत को जब्त कर लिया था. उसके बाद इसे ईरान के बंदरगाह बंदर अब्बास पर रोक कर रख लिया गया था

ईरान (Iran) के रेवोल्यूशनरी गार्ड्स (Revolutionary Guards) ने हरमुज जलडमरूमध्य में 19 जुलाई को इस पोत को जब्त कर लिया था. उसके बाद इसे ईरान के बंदरगाह बंदर अब्बास पर रोक कर रख लिया गया था.

  • भाषा
  • Last Updated: September 29, 2019, 4:28 AM IST
  • Share this:
दुबई. दो महीने से ईरान (Iran) द्वारा जब्त ब्रिटिश ध्वजवाहक (British ship) तेल टैंकर स्टेना इंपेरो (Stena Impero) को छोड़ दिया गया है. शनिवार को यह ब्रिटिश जहाज दुबई के बंदरगाह पहुंच गया. दरअसल टैंकर जब्ती और उसके चालक दल के सदस्यों को हिरासत में लिए जाने की इस घटना के बाद क्षेत्र में तनाव बढ़ गया था.

ईरान के रेवोल्युशनरी गार्ड्स ने हरमुज जलडमरूमध्य में 19 जुलाई को इस पोत को जब्त कर लिया था. उसके बाद इसे ईरान के बंदरगाह बंदर अब्बास पर रोक कर रख लिया गया था. मछली पकड़ने वाली एक नौका को टक्कर मारने के बाद मदद की गुहार पर कथित तौर पर प्रतिक्रिया नहीं देने और अपना ट्रांसपोंडर बंद कर लेने के कारण उसे जब्त किया गया था.

स्टेना इंपेरो को अंतत: ईरान से खाड़ी के अंतरराष्ट्रीय जलक्षेत्र में जाने की मंजूरी मिल गई.


जैसे को तैसे की कार्रवाई थी ईरान की जब्ती

ईरान द्वारा इस जब्ती को जैसे को तैसे की कार्रवाई के तौर पर देखा गया था. क्योंकि इससे पहले जिब्राल्टर में ईरान के एक टैंकर को इस संदेह पर जब्त कर लिया गया था कि वह यूरोपीय संघ (ईयू) के प्रतिबंधों का उल्लंघन कर सीरिया को तेल भेज रहा था. ईरान ने इन दोनों मामलों को जोड़ कर देखे जाने का लगातार विरोध किया.

अंतरराष्ट्रीय जलक्षेत्र में जाने की मिली मंजूरी
शुक्रवार को स्टेना इंपेरो को अंतत: ईरान से खाड़ी के अंतरराष्ट्रीय जलक्षेत्र में जाने की मंजूरी मिल गई. दक्षिणी ईरान में हरमुज प्रांत के समुद्री संगठन ने अपनी वेबसाइट पर कहा, 'पोत को जाने की मंजूरी देने के बावजूद इसका कानूनी मामला ईरान की अदालत में अब भी चल रहा है.'
Loading...

जहाजों की गतिविधि का पता लगाने वाली वेबसाइट ‘मरीनट्रैफिक डॉट कॉम’ के डेटा के मुताबिक रात भर अमीरात के तट पर खड़े रहने के बाद इस पोत को शनिवार को दुबई के राशिद बंदरगाह पर ले जाकर खड़ा किया गया. पोत की मालिक कंपनी स्टेना बल्क के सीईओ ने कहा कि टैंकर के चालक दल के सदस्य सुरक्षित हैं और उनके दुबई पहुंचने पर उन्हें उनके घर वापस भिजवाने की व्यवस्था कर ली गई है.

ये भी पढ़ें: 

अफगानिस्तान में राष्ट्रपति चुनाव के दौरान पोलिंग बूथ पर धमाका, 15 लोग घायल

न्यूयॉर्क में इमरान खान की फ्लाइट की करानी पड़ी इमरजेंसी लैंडिंग, मचा हड़कंप

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 29, 2019, 4:28 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...