ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने इजराइल को बताया 'कैंसर ट्यूमर'

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने शनिवार को इजराइल को ‘‘कैंसर कारक ट्यूमर’’ बताया जिसे पश्चिमी देशों ने पश्चिम एशिया में अपने हितों को आगे बढ़ाने के लिए स्थापित किया है.

भाषा
Updated: November 24, 2018, 5:58 PM IST
ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने इजराइल को बताया 'कैंसर ट्यूमर'
(फाइल फोटो- हमन रुहानी)
भाषा
Updated: November 24, 2018, 5:58 PM IST
ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने शनिवार को इजराइल को ‘‘कैंसर कारक ट्यूमर’’ बताया जिसे पश्चिमी देशों ने पश्चिम एशिया में अपने हितों को आगे बढ़ाने के लिए स्थापित किया है. ईरान के नेता अक्सर इजराइल की निंदा करते हैं और उसके समाप्त होने की भविष्यवाणी करते हैं लेकिन अपेक्षाकृत नरमपंथी रूहानी ऐसी बयानबाजी नहीं करते हैं.

रूहानी ने वार्षिक इस्लामी एकता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि द्वितीय विश्वयुद्ध के मनहूस परिणामों में से एक क्षेत्र में एक कैंसरकारक ट्यूमर का निर्माण था.’’

ये भी पढ़ें: अमेरिका का ऐलान, भारत समेत 8 देश ईरान से खरीद सकेंगे तेल



उन्होंने इजराइल को एक ‘‘फर्जी शासन’’ करार दिया जिसे पश्चिमी देशों द्वारा स्थापित किया गया है. ईरान हिजबुल्ला और हमास जैसे आतंकवादी समूहों का समर्थन करता है जो इजराइल के विनाश को प्रतिबद्ध हैं.

रूहानी ने ईरान के क्षेत्रीय प्रतिद्धंद्वी सऊदी अरब की ओर परोक्ष रूप से इशारा करते हुए कहा कि अमेरिका इजराइल की रक्षा करने के लिए ‘‘क्षेत्रीय मुस्लिम देशों’’ के साथ अपने निकट संबंधों का इस्तेमाल करता है.

ये भी पढ़ें-
ट्विटर पर सबसे लोकप्रिय हैं डोनाल्ड ट्रंप, तीसरे नंबर पर PM मोदी
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर