लाल सागर में ईरान के जहाज पर हमले की बात को सरकार ने माना, अमेरिका ने झाड़ा पल्ला

यमन के निकट लाल सागर में वर्षों से खड़ा ईरानी मालवाहक पोत. (एपी)

यमन के निकट लाल सागर में वर्षों से खड़ा ईरानी मालवाहक पोत. (एपी)

Iranian Ship Attacked in Red Sea: सऊदी सेना से ‘एपी’ को मिली तस्वीरों में पोत पर सैन्य वर्दी पहने लोग और पोत को यमनी तट पर लाने में सक्षम छोटी नौकाएं दिख रही हैं.

  • ए पी
  • Last Updated: April 7, 2021, 1:11 PM IST
  • Share this:
दुबई. ईरान के सरकारी टीवी चैनल ने यमन के निकट लाल सागर में वर्षों से खड़े ईरानी मालवाहक पोत पर हमले की बात बुधवार को स्वीकार की. ऐसा माना जाता है कि यह पोत अर्द्ध सैन्य बल ‘रेवोल्यूशनरी गार्ड’ का अड्डा है.

सरकारी टीवी ने विदेशी मीडिया का हवाला देते हुए यह बयान दिया, जो ‘एमवी साविज’ की संलिप्तता वाली रहस्यमयी घटना को लेकर ईरान की पहली टिप्पणी है.

इस बीच, अमेरिकी सेना की मध्य कमान ने एक बयान में केवल यह कहा कि वह ‘‘लाल सागर में साविज की संलिप्तता वाली घटना संबंधी मीडिया रिपोर्टों को लेकर अवगत’’ है.



उसने कहा, ‘‘हम इस बात की पुष्टि कर सकते हैं कि इस घटना में अमेरिकी बलों की कोई संलिप्तता नहीं है. हमारे पास कोई अतिरिक्त जानकारी मुहैया कराने के लिए नहीं है.’’
सऊदी सेना से ‘एपी’ को मिली तस्वीरों में पोत पर सैन्य वर्दी पहने लोग और पोत को यमनी तट पर लाने में सक्षम छोटी नौकाएं दिख रही हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज