अपना शहर चुनें

States

जितनी बतायी हैं उससे दोगुनी मौतें हुई हैं ईरान में, लाशों के ढेर के कई VIDEO वायरल

ईरान में कोरोना से हुई मौतों पर उठे सवाल
ईरान में कोरोना से हुई मौतों पर उठे सवाल

ईरान (Iran) की संसद की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) से मौतों का जो आधिकारिक आंकड़ा है, उसकी तुलना में संभवत: दोगुनी मौतें हुई हैं. देश के स्वास्थ्य अधिकारियों ने फिलहाल इस रिपोर्ट पर कोई टिप्पणी नहीं की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 17, 2020, 11:27 AM IST
  • Share this:
तेहरान. ईरान (Iran) सरकार के मुताबिक अब देश में कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के मामलों में लगातार कमी आ रही है. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक ईरान में 78000 से ज्यादा संक्रमण के केस सामने आए हैं जिनमें 4869 लोगों की मौत हो गयी है. फिलहाल 21000 से ज्यादा लोगों का इलाज चल रहा है और 3500 से ज्यादा लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है. हालांकि ईरान की संसद में पेश हुई एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि मौतों की संख्या जो बतायी जा रही है असल में उससे दोगुनी है. सोशल मीडिया (Social Media) पर भी ईरान से कई ऐसे वीडियो वायरल (Viral Video) हो रहे हैं जिन पर स्पष्टीकरण देने से सरकार कतरा रही है.

ईरान की संसद की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में कोरोना वायरस से मौतों का जो आधिकारिक आंकड़ा है, उसकी तुलना में संभवत: दोगुनी मौतें हुई हैं. देश के स्वास्थ्य अधिकारियों ने फिलहाल इस रिपोर्ट पर कोई टिप्पणी नहीं की है. संसद की रिपोर्ट ऐसे समय आई है जब ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी देश की आर्थिक गतिविधियों को धीरे-धीरे पुन: शुरू करने पर जोर दे रहे हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन को सौंपे गए इसके आंकड़े यदि गलत हैं तो इससे यह डर पैदा हो सकता है कि लोगों के काम पर लौटने से संक्रमण का दौर एक बार फिर जोर पकड़ सकता है.





10 लाख लोग संक्रमित होने का अनुमान
सिर्फ ये रिपोर्ट ही नहीं मैसाचुसेट्स इंस्टीच्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी और वर्जीनिया टेक यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं के मॉडल के मुताबिक भी ईरान में बताई जा रही संख्या से कहीं बुरी स्थिति है. वैज्ञानिकों ने दूसरे देशों में प्रवेश करने पर संक्रमित पाए गए ईरानी यात्रियों के डेटा और विभिन्न मेडिकल संगठनों के अनुमानों का इस्तेमाल कर जो आंकड़ा निकला है उसके मुताबिक ईरान में 20 मार्च तक 15,000 लोगों की जान जा चुकी है और संक्रमित लोगों की संख्या 10 लाख के आस-पास होगी. ये ईरान के सरकारी आंकड़ों से करीब दस गुना ज्यादा है.

संसद में पेश रिपोर्ट के मुताबिक भी ईरान स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों में सिर्फ उन्हीं लोगों के आंकड़े दर्ज किए गए हैं जिनकी मौत अस्पतालों में हुई और जो जांच में संक्रमित पाए गए. इनमें उन लोगों को छोड़ दिया गया जिनकी मौत अपने घरों में हुई और जिनकी जांच नहीं हुई. इस रिपोर्ट में कहा गया है कि ईरान में मौतों का असल आंकड़ा दर्ज मौतों से 80 प्रतिशत अधिक या दोगुना भी हो सकता है. इसमें कहा गया है कि संक्रमित लोगों की संख्या दर्ज आंकड़ों के मुकाबले आठ से 10 गुना अधिक हो सकती है.



वायरल हुए हैं कई VIDEO
सोशल मीडिया पर ईरान से कई ऐसे वीडियो वायरल हो रहे हैं जिनमें लाशों का ढेर नज़र आ रहा है. BBC की रिपोर्ट के मुताबिक ऐसा ही एक अपुष्ट वीडियो ईरान के एक पवित्र धार्मिक शहर क़ुम के मुख्य क़ब्रिस्तान में से सामने आया है. इस वीडियो में कर्मचारी कहता है कि ये वो लाशें हैं जिन्हें 'सुबह' निपटा दिया गया. वो फिर काले बॉडी बैग्स में लिपटी लाशों की कतार दिखाता है जो फ़र्श पर बेतरतीब रखी हैं और जिन्हें दफ़नाया जाना बाकी है.

इसकी रिकॉर्डिंग करने वाले शख़्स को गिरफ़्तार कर लिया गया, और फिर अधिकारियों ने लोगों को ये समझाना शुरु कर दिया कि सभी लाशों का सम्मान के साथ और इस्लामिक रीति से ध्यान रखा जा रहा है. हालांकि इस वीडियो के वायरल होने के बाद ईरान सरकार ने लोगों को समझाने के लिए एक 'कोरोना लेडीज' नाम के एक ग्रुप की चर्चा करनी शुरू की है. दावा किया जा रहा है कि ये ग्रुप ही कोरोना ने मारे गए लोगों की लाशों को धार्मिक रीति-रिवाज के तहत दफना रहा है.

ये भी पढ़ें:-

पूरे मुल्क से गौरैया खत्म होने के बाद चीनी क्यों हुए थे लाशें खाने को मजबूर

AC से भी फैल सकता है कोरोना वायरस, चीन में आया ऐसा ही एक मामला

Coronavirus: अमेरिका में 2 साल तक पास नहीं आ सकेगा कोई, ज़ारी रहेगी सोशल डिस्टेंसिंग

कोरोना रहा तो क्या होंगे हमारे फ्यूचर के कपड़े और तौर-तरीके
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज