इराक: बगदाद में अमेरिकी दूतावास के पास एक बार फिर दागे गए 5 रॉकेट, बढ़ा तनाव

इराक: बगदाद में अमेरिकी दूतावास के पास एक बार फिर दागे गए 5 रॉकेट, बढ़ा तनाव
अमेरिकी दूतावास के पास दागे गए रॉकेट.(फाइल फोटो)

बता दें कि ईरान की कुद्स फोर्स के कमांडर मेजर जनरल कासिम सुलेमानी (Qasem Soleimani) की अमेरिकी हवाई हमले (US Airstrike) में मौत के बाद से मध्‍य पूर्व में अशांति और विवाद बढ़ना तय है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 27, 2020, 5:38 AM IST
  • Share this:
बगदाद. इराक (Iraq) की राजधानी बगदाद (Baghdad) में एक बार फिर अमेरिकी दूतावास (US Embassy) के बाद रॉकेट से हमला किया गया है. अभी तक की खबर के मुताबिक अमेरिकी दूतावास के पास 5 रॉकेट गिराए गए हैं. कुछ दिन पहले ही ऐसे ही रॉकेट हमले किए गए थे, जिसके आरोप ईरान के ऊपर लगाए गए थे. इस हमले के बाद अमेरिका ने ईरान को बड़ा अंजाम भुगतने की चेतावनी दे डाली थी. बता दें कि ईरान की कुद्स फोर्स के कमांडर मेजर जनरल कासिम सुलेमानी (Qasem Soleimani) की अमेरिकी हवाई हमले (US Airstrike) में मौत के बाद से मध्‍य पूर्व में अशांति और विवाद बढ़ना तय है.

समाचार एजेंसी एएफपी के संवाददाताओं के मुताबिक टाइग्रिस के पश्चिमी बैंक की तरह रॉकेट हमले की तेज अवाजें सुनाई दी हैं. बता दें कि पश्चिमी बैंक में ही अमेरिकी दूतावास और अधिकांश विदेशी राजनयिक मिशन स्थित हैं. इराक के सुरक्षा बलों ने बताया कि हाई-सिक्योरिटी ग्रीन जोन में अमेरिकी दूतावास के पास 5 रॉकेट दागे गए हैं. हालांकि इस हमले में किसी के भी हताहत होने की सूचना नहीं है. हमले की जिम्मेदारी अभी तक किसी ने भी नहीं ली है. हालांकि इस बार भी ईरान पर ही इस हमले का शक जताया गया है.


बता दें कि हाल ही में बगदाद में मुस्लिम धर्मगुरु मोकतदा सदर ने एक रैली की थी. इस रैली के माध्यम से मोकतदा ने अमेरिकी सैनिकों से इराक से जाने की अपील की थी. इस हमले के बाद एक बार फिर अमेरिका और ईरान के बीच तनाव बढ़ सकता है. गौरतलब है कि आतंकवादी संगठन आईएसआईएस के खिलाफ जंग के लिए इराक में तकरीबन 52 हजार अमेरिकी सैनिक जमे हुए हैं. हालांकि इराक से इन सैनिकों की वापसी की मांग काफी तेज हो गई है लेकिन अमेरिका ने इसे सिरे से खारिज कर दिया है.



इसे भी पढ़ें :- बगदाद में अमेरिकी दूतावास और एयरबेस पर रॉकेट से हमला, 5 लोग घायल

गौरतलब है कि अमेरिका ने लंबे इंतजार के बाद आखिरकार स्वीकार कर लिया है कि ईरान की ओर से किए गए मिसाइल अटैक में अमेरिका के 34 सैनिक घायल हुए थे. बता दें कि कुद्स फोर्स के प्रमुख मेजर जनरल कासिम सुलेमानी की मौत के बाद ईरान ने बदले की कार्रवाई करते हुए इराक में अमेरिकी एयरबेस पर हमला किया था. ईरान ने हमले के बाद 80 अमेरिकी सैनिकों के मारे जाने का दावा किया था. हालांकि उस वक्त अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि इराक में सभी अमेरिकी सैनिक सुरक्षित हैं.

इसे भी पढ़ें :- आखिरकार अमेरिका ने स्वीकारा- ईरान के मिसाइल अटैक में 34 सैनिक हुए घायल, दिमाग में लगी चोट
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading