सीरिया से भी हुआ ISIS का सफाया, अमेरिकी सैनिकों ने आखिरी गढ़ को कराया आज़ाद

कुर्द नेतृत्व वाले सीरियन डेमोक्रेटिक फोर्सेज के प्रवक्ता मुस्तफा बाली ने ट्वीट कर कहा, ‘बागुज मुक्त हो गया और आईएस के खिलाफ सैन्य जीत हासिल कर ली गई.’ बागुज में आईएस के कब्जे वाले इलाके को मुक्त कराने के साथ ही आतंकवादियों के स्वयंभू खलीफा का अंत हो गया है.

News18Hindi
Updated: March 24, 2019, 1:02 PM IST
सीरिया से भी हुआ ISIS का सफाया, अमेरिकी सैनिकों ने आखिरी गढ़ को कराया आज़ाद
रैंड कॉरपोरेशन में अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा और रक्षा नीति केंद्र के निदेशक सेठ जोंस ने कहा, ‘मुद्दा यह है कि कितने मारे गए हैं? कितने अब भी वहां हैं और लड़ना चाह रहे हैं? कितने लोग लड़ने के लिए कहीं और गए हैं?’ उन्होंने कहा, ‘कितने लोगों ने लड़ाई से तौबा कर ली है? मैं नहीं समझता कि हमारे पास कोई अच्छा जवाब है.’ अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद रोधी संगठन इन सवालों के जवाब देने के लिए काफी कोशिशें कर रहे हैं और आईएस लड़ाकों का नाम जानने, उनकी गिनती करने और आईएस के विदेशी लड़ाकों का पता लगाने के लिए काफी मेहनत कर रहे हैं.
News18Hindi
Updated: March 24, 2019, 1:02 PM IST
सीरिया में अमेरिका समर्थित विद्रोही गुटों ने पूर्वी सीरिया के बागुज गांव में इस्लामिक स्टेट के कब्जे वाले आखिरी इलाके को भी आज़ाद करा लिया है. शनिवार को इसका ऐलान किया गया. इसके साथ ही इराक के बाद सीरिया भी इस्लामिक स्टेट (ISIS) से मुक्त हो गया है.

कुर्द नेतृत्व वाले सीरियन डेमोक्रेटिक फोर्सेज के प्रवक्ता मुस्तफा बाली ने ट्वीट कर कहा, ‘बागुज मुक्त हो गया और आईएस के खिलाफ सैन्य जीत हासिल कर ली गई.’ बागुज में आईएस के कब्जे वाले इलाके को मुक्त कराने के साथ ही आतंकवादियों के स्वयंभू खलीफा का अंत हो गया है.

पाकिस्तान को US की सख्त चेतावनी- भारत पर एक और आतंकी हमला बहुत परेशानी लेकर आएगा

सीरिया में आईएसआईएस के खात्मे के ऐलान से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि इस्लामिक स्टेट के आतंकवादी अब सीरिया के किसी भी क्षेत्र में मौजूद नहीं हैं. बता दें कि आईएस ने इलाके में अपने कब्जे के दौरान बड़े पैमाने पर नरसंहार किया. इनका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर फैलाया गया.

साल 2014 में इराक के सिंजार क्षेत्र में आतंक मचाने के दौरान उसने यजीदी धार्मिक अल्पसंख्यक समुदाय की हजारों महिलाओं और लड़कियों को बंधक बनाया. उनका यौन शोषण किया गया. इनमें से कई आज तक लापता हैं.


हिज्बुल मुजाहिदीन पर बड़ी कार्रवाई, आतंकियों के खिलाफ उठाया गया ये कड़ा कदम

सीरिया के क्षेत्रों को आईएसआईएस के चंगुल से छुड़ाने के लिए अमेरिका और उसके सहयोगियों देशों ने करीब पांच साल तक अभियान चलाया. इसमें 100,000 से ज्यादा बमों का इस्तेमाल किया गया. इस दौरान अनगिनत आतंकवादी और नागरिक मारे गए.
Loading...

कहां है बगदादी?
हालांकि, बड़ा सवाल अब ये है कि अगर इराक और सीरिया से आतंक की सल्तनत खत्म हो चुकी है, तो इस सल्तनल का खलीफा और आतंक का दूसरा नाम अबु बकर अल बगदादी कहां हैं? क्या वो ज़िंदा भी है या मर गया. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में बगदादी के मरने की बात कही जा रही हैं. वहीं, कुछ रिपोर्ट्स में बगदादी के जिंदा होने का दावा किया जा रहा है. अमेरिका का मानना है कि बगदादी भी इराक में छुपा है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsAppअपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 24, 2019, 12:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...