• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • इजरायलः नेतन्याहू को फिर नहीं मिला बहुमत, गठबंधन सरकार बनने का रास्ता साफ

इजरायलः नेतन्याहू को फिर नहीं मिला बहुमत, गठबंधन सरकार बनने का रास्ता साफ

इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू (फाइल फोटो)

इजरायल (Israel) के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू (Benjamin Netanyahu) को एक बार फिर चुनाव (Election) में निराशा हाथ लगी है. इजरायल में मंगलवार को हुए मतदान (voting) के बाद से कयास लगाए जा रहे थे कि इस बार भी नेतन्याहू की पार्टी बेहतर प्रदर्शन नहीं कर पा रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    यरूशलम. इजरायल (Israel) के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू (Benjamin Netanyahu) को एक बार फिर चुनाव में निराशा हाथ लगी है. बेंजामिन नेतन्याहू की लिकुड पार्टी पांच महीनों के अंदर दूसरी बार चुनाव (Election) में बहुमत (Majority) हासिल करने में नाकामयाब रही. नेतन्याहू की पार्टी को मात्र 31 सीटें हासिल हुई हैं, जबकि चुनाव में उनके मुख्य प्रतिद्वंद्वी ब्लू एंड वाइट को नेतन्याहू की पार्टी से एक सीट ज्यादा हासिल हुई है.

    चुनाव में दोनों प्रमुख गठबंधनों की बात करें तो वामपंथी धड़े को 56 जबकि नेतन्याहू के नेतृत्व वाले दक्षिणपंथी धड़े को 55 सीटें मिली हैं. ऐसे में इजराइल में गठबंधन सरकार बनने का रास्ता साफ होता दिखाई दे रहा है. इजरायल में किसी भी पार्टी को सरकार बनाने के लिए 61 सीटें हासिल करना जरूरी होता है.

    इजरायल में मंगलवार को हुए मतदान के बाद से ही कयास लगाए जा रहे थे कि इस बार भी नेतन्याहू की पार्टी बेहतर प्रदर्शन नहीं कर पा रही है. टाइम्स ऑफ इजरायल के अनुसार 69 वर्षीय नेतन्याहू की लिकुड और उन्हें चुनौती दे रहे मध्यमार्गी पूर्व सैन्य प्रमुख बेनी गांज की ब्लू एंड वाइट पार्टी को 120 सीटों में से मात्र 31 और 32 सीटें ही हासिल हो सकी हैं. ऐसे में राजनीतिक अस्थिरता का सामना कर रहे इजरायल में गठबंधन सरकार बनने की संभावना बढ़ गई है.

    Israel, Benjamin Netanyahu, election, majority, voting,
    पूर्व रक्षा मंत्री एविगदोर लीबरमैन चुनाव में किंगमेकर की भूमिका में रहने वाले हैं.


    किंगमेकर बने पूर्व रक्षा मंत्री एविगदोर लीबरमैन
    चुनाव परिणाम देखने के बाद अंदाजा लगाया जा सकता है कि पूर्व रक्षा मंत्री एविगदोर लीबरमैन चुनाव में किंगमेकर की भूमिका में रहने वाले हैं. हालांकि उन्होंने चुनाव परिणाम आने के बाद कहा कि वह किसी गठबंधन से नहीं जुड़ेंगे. उन्होंने कहा कि तस्वीर साफ है. चुनाव परिणाम को देखने के बाद हर किसी को अंदाजा लग गया है कि सत्ता में बैठने के लिए लिबरल यूनिटी सरकार ही एकमात्र विकल्प है, जिसमें लिकुड़, ब्लू एंड वाइट और उनकी अपनी इजरायल बितेनु शामिल रहेगी.

    इसे भी पढ़ें :-

    नेतन्याहू ने जिसे सैन्य प्रमुख बनाया था, वही छीन सकता है उनकी गद्दी
    UN की रिपोर्ट में दावा, दुनिया में सबसे ज्यादा विदेशों में रहते हैं भारतीय
    इमरान खान ने कहा, कश्‍मीर से कर्फ्यू हटाने तक भारत से नहीं होगी बात

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज