• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • ISRAEL HAMAS CEASEFIRE ISRAEL AGREED TO CEASEFIRE ON HAMAS AFTER CONVINCING INDIA

Israel-Hamas ceasefire: हमास से सीजफायर के बाद इजरायली राजूदत ने कहा, 'हमें भारत का साथ मिलता रहा'

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने हमास के साथ युद्धविराम की घोषणा कर दी है. (रॉयटर्स फाइल फोटो)

इजरायल (Israel) कहा कि अमेरिका (America) सहित कुछ अन्‍य देशों की तरह ही भारत (India) ने इस मामले पर सार्वजनिक तौर पर किसी भी तरह का समर्थन नहीं किया, लेकिन उसे इजरायल की ओर से हमास (Hamas) पर की जा रही कार्रवाई की पूरी जानकारी थी.

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. इजरायल (Israel) और फिलिस्तीनी (Palestine) संगठन हमास (Hamas) के बीच शुरू हुए खूनी संघर्ष से मची तबाही आखिरकार शांत हो गई. 11 दिन तक इजरायल के ताबड़तोड़ हमलों के बाद गज़ा पट्टी पर सीजफायर (Ceasefire) लागू किया गया है. भारत (India) में इजरायल की डिप्‍टी राजदूत रोनी येदिदिया क्‍लेन ने भी हमास के बीच संघर्षविराम का स्‍वागत किया है. उन्‍होंने कहा कि अमेरिका सहित कुछ अन्‍य देशों की तरह ही भारत ने इस मामले पर सार्वजनिक तौर पर किसी भी तरह का समर्थन हासिल नहीं किया, लेकिन उसे इजरायल की ओर से की जा रही कार्रवाई की पूरी जानकारी थी.

    वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में रोनी येदिदिया क्लेन ने कहा, 'हमारी ओर से पिछले 11 दिनों से चल रहे खूनी संघर्ष का अंत हो गया है. हम उम्‍मीद करते हैं कि हमास की ओर से भी किसी भी तरह की फायरिंग नहीं की जाएगी.' उन्‍होंने कहा कि जमीनी हकीकत तय करेगी कि मिस्र की मध्यस्थता से युद्धविराम कैसा रहेगा.



    समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक रोनी येदिदिया क्लेन ने कहा इस मामले में जब हमने भारतीय समकक्षों के साथ बात की तो हमें बहुत सी चीजें समझ में आईं. भले ही भारत ने कभी भी सार्वजनिक तौर पर हमारा समर्थन नहीं किया, लेकिन उनका साथ हमेशा हमें मिलता रहा है. क्‍लेन ने कहा कि हमने जब भारतीय अधिकारियों को इजरायल की कार्रवाई के बारे में बताया कि तो इस पूरे मुद्दे पर एक समझ देखने को मिली. उन्‍होंने बताया कि हमास पर कार्रवाई के दौरान इजरायली दूतावास लगातार भारत और अपने समकक्षों के संपर्क में रहा.

    इसे भी पढ़ें :- Gaza War : इज़रायल-हमास के बीच सीज़फायर, नेतन्याहू ने कहा-'हमने हासिल किया अपना लक्ष्य'

    रोनी येदिदिया क्लेन ने कहा, जब कभी भी कोई बड़ी परेशानी आती है तो हम अपने समकक्षों के साथ लगातार संपर्क में रहते हैं. यही कारण है कि हमास के साथ जंग में भी हम लगातार भारत के विदेश मंत्रालय के साथ संपर्क में रहे. वे बहुत समझदार हैं और हम एक साथ काम करते हैं.' प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के दौरान क्‍लेन ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में भारत के राजदूत टीएस तिरुमूर्ति की तरफ से दिए गए बयानों का भी उल्लेख किया, जिसमें तनाव को तत्काल कम करने का आग्रह किया गया था.

    इसे भी पढ़ें :- इजरायल-फिलिस्तीन के बीच छिड़े संघर्ष पर क्या बोला भारत?

    हमास के साथ सीजफायर के बाद इजरायली दूतावास की ओर से ट्वीट करते हुए कहा गया कि, हमास के हमलों के बाद जिस तरह से हमें अपने दोस्तों का समर्थन मिला हम उसके अभारी हैं. आत्मरक्षा के हक का समर्थन करने के लिए हम सभी का आभार प्रकट करते हैं. आपका समर्थन हमें आगे बढ़ने की ताकत देता है. इजरायली दूतावास ने हिंदी में धन्यवाद लिखकर ट्वीट किया.