अपना शहर चुनें

States

दोस्ती के बाद इजराइल ने UAE में खोला दूतावास, ट्रंप की रही है अहम भूमिका

फाइल फोटो.
फाइल फोटो.

UAE की राजधानी अबू धाबी (Abu Dhabi) में इजराइल (Israel) का दूतावास खोला है. इसका ऐलान खुल इजराइल ने किया है. सितंबर 2020 में ही UAE ने इजराइल को बतौर देश मान्यता दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 25, 2021, 7:33 PM IST
  • Share this:
यरुशलम. इजराइल ने UAE की राजधानी अबू धाबी (Abu Dhabi) में दूतावास खोलने का सार्वजनिक ऐलान कर दिया है. दरअसल, पिछले साल सिबंतर में UAE ने इजराइल को बतौर देश मान्यता दी थी, जिसमें दोनों ने एक दूसरे के साथ राजनयिक संबंधों को स्थापित करने का करार किया था. इजराइल का UAE में दूतावास खोलना दुनिया के लिए बड़ी खबर इसलिए माना जा रहा है, क्योंकि अब तक मुस्लिम देशों (Muslim Countries) ने इजराइल को बतौर देश मान्यता ही नहीं दी थी. इजरायल के विदेश मंत्री ने गबी अशोकनजी ने UAE में दूतावास खोलने का ऐलान करते हुए कहा कि 'यूएई में दूतावास खोलने के बाद दोनों देशों के संबंध में और विस्तार आएगा. दोनों देशों के बीच पिछले साल सितंबर से ही फ्लाइटों का संचालन हो रहा है. दोनों देशों के बीच कई व्यापारिक समझौते हो चुके हैं, और हम आगे भी कई समझौते करने वाले हैं. हजारों इजराइली यात्री भी पर्यटन के लिए UAE आ रहे हैं.'

UAE और इजरायल में हुई दोस्ती के बाद अब माना जा रहा है कि कई और मुस्लिम देश इजराइल को मान्यता दे सकते हैं. इजराइल के विदेश मंत्री के मुताबिक फिलहाल यूएई की राजधारी अबूधाबी में एक अस्थायी जगह पर दूतावास खोला गया है. बाद में स्थायी दूतावास का निर्माण किया जाएगा. दरअसल, मुस्लिम देशों को अब लगने लगा है कि अमेरिका से अच्छे संबंध का रास्ता ना सिर्फ इजराइल से होते हुए जाता है बल्कि इजराइल से दोस्ती करने के बाद ही उन्हें कम कीमत पर उन्नत टेक्नोलॉजी मिलेंगे. जिससे उनके लिए तरक्की का रास्ता खुलेगा.

ये भी पढ़ें: इजराइल: भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे PM नेतन्याहू के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग, मांगा इस्तीफा




अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने करवाई थी दोस्ती
इजराइल और UAE को साथ लाने में सबसे बड़ी भूमिका अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने निभाई थी. पिछले साथ डोनाल्ड ट्रंप ने इजराइल और यूएई के बीच एग्रीमेंट साइन होने की बात कहकर पूरी दुनिया को हैरान कर दिया था. डोनाल्ड ट्रंप ने पिछले साल कहा था कि UAE और बहरीन ने इजराइल को बतौर देश मान्यता देने का फैसला किया है. डोनाल्ड ट्रंप ने हजारों लोगों की भीड़ को संबोधित करते हुए कहा था, 'दशकों के विभाजन और संघर्ष के बाद मिडिल इस्ट में नये सूरज का उदय हुआ है, इजराइल और UAE का एक साथ एक टेबल पर आना एतिहासिक है.' वहीं, इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने यूएई से हुई दोस्ती के बाद कहा था 'आज का दिन एतिहासिक है और दुनिया के लिए आज का दिन शांति की सुबह है.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज