ग़ज़ा-इजरायल के बीच संघर्ष विराम की कोशिशें तेज, UNSC की इमरजेंसी मीटिंग में अमेरिका ने बताया अपना रुख

इजरायल ने ग़ज़ा में हमास के कई ठिकानों पर रॉकेट से हमला किया है. (एएफपी फोटो)

इजरायल ने ग़ज़ा में हमास के कई ठिकानों पर रॉकेट से हमला किया है. (एएफपी फोटो)

Israel Palestine War: इजरायल और ग़ज़ा के हमास चरमपंथी शासकों के बीच संघर्ष 2014 के बाद से सबसे भीषण स्तर पर है और अंतरराष्ट्रीय आक्रोश भी पैदा हो रहा है.

  • ए पी
  • Last Updated: May 17, 2021, 7:28 PM IST
  • Share this:

संयुक्त राष्ट्र. संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के राजनयिकों और मुस्लिम देशों के विदेश मंत्रियों ने इजरायल और फिलिस्तीन के बीच हिंसा को रोकने के प्रयासों के तहत सप्ताहांत में आपात बैठक बुलाई. हमास के हमलों के बाद पिछले एक सप्ताह के सबसे भीषण हमलों में इजरायल ने ग़ज़ा शहर में कई रॉकेट दागे हैं.


अमेरिका में कुछ डेमोक्रेट नेताओं ने बाइडन के प्रशासन के इस मामले में भूमिका निभाने की वकालत की है, लेकिन राष्ट्रपति जो बाइडन ने इजरायल पर तत्काल संघर्ष-विराम के लिए सहमत होने के लिहाज से दबाव बढ़ाने का कोई संकेत नहीं दिया है. संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी राजदूत लिंडा थॉमस-ग्रीनफील्ड ने सुरक्षा परिषद की आपात उच्चस्तरीय बैठक में कहा कि अमेरिका संघर्ष को रोकने के लिहाज से राजनयिक माध्यमों से अथक प्रयास कर रहा है.


इजरायल-फिलिस्तीन जंग: ग़ज़ा पर हमले को लेकर फिर अमेरिका पर बरसा चीन


इजरायल और ग़ज़ा के हमास चरमपंथी शासकों के बीच संघर्ष 2014 के बाद से सबसे भीषण स्तर पर है और अंतरराष्ट्रीय आक्रोश भी पैदा हो रहा है, लेकिन अमेरिका की विदेश नीति में पश्चिम एशिया और अफगानिस्तान से ध्यान हटाने को संकल्पित बाइडन प्रशासन ने संघर्ष में इजरायल की भूमिका की निंदा करने या क्षेत्र में एक उच्चस्तरीय राजनयिक को तैनात करने से अभी तक इनकार ही किया है. अन्य देशों की अपील का भी कोई असर नहीं दिखाई दे रहा.



थॉमस-ग्रीनफील्ड ने चेतावनी दी है कि सशस्त्र संघर्ष से दशकों पुराने इजराल-फिलिस्तीन संघर्ष के लिए दोनों के बीच बातचीत से समाधान के प्रयास निष्प्रभावी हो जाएंगे. हालांकि इजराइल के करीबी सहयोगी अमेरिका ने सुरक्षा परिषद से एक बयान जारी कराने के चीन, नॉर्वे और ट्यूनिशिया के प्रयासों को अभी तक रोक रखा है. इजरायल में अमेरिकी अधिकारी हैडी अम्र ने इजरायल के रक्षा मंत्री बेनी गैंज से मुलाकात की जिन्होंने अमेरिका के समर्थन के लिए धन्यवाद दिया. अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने संकट को कम करने के लिए हैडी को इजरायल भेजा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज