अपना शहर चुनें

States

आतंकी मसूद अजहर की धमकी- अयोध्या में राम मंदिर बना तो दिल्ली से काबुल तक मचेगी तबाही

भारत को धमकी देते हुए मसूद अजहर ने बाबरी मस्जिद को लेकर 9 मिनट का ऑडियो जारी किया है. मसूद ने धमकी देते हुए कहा, 'मुलमानों को डराया जा है. ऐसे में हमें आना होगा.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 30, 2018, 12:34 PM IST
  • Share this:
भारत में राम मंदिर मुद्दे पर बहस और सियासी बयानबाजी जारी है. इस बीच आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर ने एक ऑडियो जारी कर भारत को धमकी दी है. मसूद अजहर ने कहा कि अगर अयोध्या में राम मंदिर बना तो दिल्ली से लेकर काबुल तक तबाही मचेगी. वहीं, मसूद की इस धमकी के बाद खुफिया सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हो गई हैं.

भारत को धमकी देते हुए मसूद अजहर ने बाबरी मस्जिद को लेकर 9 मिनट का ऑडियो जारी किया है. मसूद ने धमकी देते हुए कहा, 'अयोध्या में बाबरी मस्जिद को गिराकर मंदिर बनाया गया है. वहीं हिंदू त्रिशूल लेकर इकठ्ठा हो रहे हैं. मुलमानों को डराया जा है. ऐसे में हमें आगे आना होगा.'

ऑडियो में जैश सरगना मसूद अजहर कर रहा है, 'अगर बाबरी मस्जिद वाले अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण हुआ, तो मेरे लड़ाके दिल्ली से लेकर काबुल तक धमाके से तबाही मचा देंगे.'



मसूद अजहर ने इस ऑडियो में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ भी जहर उगला. उसने कहा कि ये सब मोदी चुनाव के लिए कर रहा है. बता दें कि जम्मू कश्मीर में जैश ए मोहम्मद लगातार आतंकियों को भेजता रहता है. ताकि वे भारत में अपने खौफनाक मंसूबों को अंजाम दे सकें. लेकिन भारत के सुरक्षाकर्मी उन्हें उनके ढेर कर जहन्नुम भेजते रहते हैं.
आतंकी मसूद अजहर के भाई समेत 13 लोगों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल
एनआईए ने नगरोटा में सेना के शिविर पर हमला मामले में मौलाना मसूद अजहर के भाई और जैश-ए-मोहम्मद के नायब सरगना मौलाना अब्दुल रऊफ असगर समेत 13 अन्य लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया है. जम्मू कश्मीर के नगरोटा में एक आर्मी कैंप में नवंबर 2016 में हमला हुआ था.

एनआईए के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि रणबीर दंड संहिता, गैर कानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम और विदेशी नागरिक अधिनियम के तहत आरोपियों के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया गया है.

प्रवक्ता ने बताया कि जांच में इस बात का खुलासा हुआ कि इन लोगों ने भारी मात्रा में हथियारों से लैस तीन लोगों के एक समूह को सांबा-कठुआ से लगी अंतरराष्ट्रीय सीमा से जम्मू के होटल जगदंबा तक और फिर नगरोटा तक अपने वाहन में पहुंचाया था.

गौरतलब है कि पाकिस्तानी जैश-ए-मोहम्मद के तीन सदस्यों ने सेना के शिविर पर यह हमला किया था, जिसमें सात सैनिक शहीद हो गए थे, जबकि तीन अन्य घायल हो गए थे. इस हमले के दौरान तीनों आतंकवादी भी मारे गए थे. एनआईए ने कहा है कि असगर नगरोटा हमले का सरगना था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज