लाइव टीवी

इस अमेरिकी विशेषज्ञ ने की विदेश मंत्री जयशंकर की तारीफ, बताया - बेहतरीन राजनयिकों में से एक

News18Hindi
Updated: June 8, 2019, 2:49 PM IST
इस अमेरिकी विशेषज्ञ ने की विदेश मंत्री जयशंकर की तारीफ, बताया - बेहतरीन राजनयिकों में से एक
एस जयशंकर (PTI Photo/Kamal Kishore)

अपनी कुशल कूटनीति, गंभीर वार्ता तकनीकों और रणनीतिक दृष्टिकोण के लिए जाने जाने वाले 64 वर्षीय जयशंकर 2013 से 2015 तक अमेरिका में भारत के राजदूत थे.

  • Share this:
अमेरिका के कुछ पूर्व राजनयिकों और विदेश मामलों के विशेषज्ञों ने भारत के नए विदेश मंत्री के रूप में एस. जयशंकर की नियुक्ति की प्रशंसा करते हुए विश्वास जताया कि उनके कार्यकाल में अमेरिका-भारत रणनीतिक संबंध और प्रगाढ़ होंगे. अपनी कुशल कूटनीति, गंभीर वार्ता तकनीकों और रणनीतिक दृष्टिकोण के लिए जाने जाने वाले 64 वर्षीय जयशंकर 2013 से 2015 तक अमेरिका में भारत के राजदूत थे.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार पूर्ववर्ती ओबामा प्रशासन में दक्षिण और मध्य एशिया मामलों की सहायक विदेश मंत्री रहीं निशा देसाई बिस्वाल ने बताया, 'मैं जयशंकर को विदेश मंत्री के रूप देखकर बहुत खुश हूं. वह अनुभवी और कुशल राजनयिक हैं. वैश्विक रणनीतिकार के रूप में उनके गहन अनुभव ने भारत की विदेश नीति के विकास में उन्हें महत्वपूर्ण व्यक्ति बना दिया है.'

बिस्वाल फिलहाल अमेरिका-भारत व्यापार परिषद की अध्यक्ष हैं. दिसंबर 2013 में भारत की वरिष्ठ राजनयिक देव्यानी खोबरागड़े मामले में द्विपक्षीय संबंधों में संकट के दौरान बिस्वाल और जयशंकर ने साथ मिल कर काम किया था.  पीटीआई के अनुसा भारत में अमेरिका के राजदूत रहे रिचर्ड वर्मा ने कहा, जयशंकर 'दुनिया के सबसे अच्छे राजनयिकों में से एक हैं.'

बहुत बड़े वार्ताकार

जनवरी, 2015 से जनवरी 2017 तक दिल्ली में नियुक्त रहे वर्मा ने भी जयशंकर के साथ काफी करीब से काम किया है. उनका कहना है, 'वह बहुत कड़े वार्ताकार हैं, लेकिन साथ ही वह बहुत निष्पक्ष भी हैं. उन्हें पता है कि सौदा/समझौता कैसे पक्का करना है.

यह भी पढ़ें: भूटान नरेश जिग्मे खेसर से मिले विदेश मंत्री एस जयशंकरउन्हें अमेरिका-भारत संबंधों और भारत-चीन मसलों की जानकारी बाकी लोगों के मुकाबले बहुत ज्यादा है.' जयशंकर चीन में सबसे लंबे समय तक भारत के राजदूत रहे हैं. वह जून 2009 से दिसंबर 2013 तक बीजिंग में रहे. वह 2015 से 2018 तक भारत के विदेश सचिव भी रहे.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेरिका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 8, 2019, 2:49 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर