Social Media के जरिए बना दोस्त और फिर एक के बाद एक 9 लोगों को काट डाला

जापान में 9 लोगों की हत्या के आरोपी ने जुर्म कबूला (फोटो- AP)
जापान में 9 लोगों की हत्या के आरोपी ने जुर्म कबूला (फोटो- AP)

Japan Twitter killer Takahiro Shiraishi: जापान में 'ट्विटर किलर' के नाम से मशहूर तकाहिरो शिरैशी ने कोर्ट में कबूल कर लिया है कि उसने ट्विटर के जरिए दोस्ती बढ़ाकर 9 ऐसे लोगों का क़त्ल किया है जो कि आत्महत्या करना चाहते थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 2, 2020, 4:04 PM IST
  • Share this:
टोक्यो. जापान (Japan) में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमें एक 29 साल के युवक ने 9 लोगों की हत्या करने का जुर्म कबूल किया है. इस युवक का नाम तकाहिरो शिरैशी (Takahiro Shiraishi) है ये सोशल मीडिया (Social Media) के जरिए लोगों से दोस्ती कर रहा था और बाद में उनका क़त्ल कर देता था. तकाहिरो पर न सिर्फ क़त्ल बल्कि उसके बाद शव के टुकड़े-टुकड़े कर उन्हें 'कूल बॉक्स' में रखे रहने का भी आरोप लगा है.

बीबीसी के मुताबिक तकाहिरो शिरैशी ने ट्विटर के जरिए दोस्ती बढ़ाकर 9 लोगों की हत्याएं की हैं. तकाहिरो ने बुधवार को कोर्ट में भी अपना जुर्म कबूल कर लिया हालांकि उसका कहना है कि इन लोगों ने उसे इसके लिए सहमति दी थी. तकाहिरो का कहना है कि वह लोगों की आत्महत्या करने में मदद करता था. तकाहिरो के वकील ने भी कोर्ट में दलील दी उसके मुवक्किल की सजा कम की जाए, क्योंकि उसने खुदकुशी करने की इच्छा जाहिर करने वाले लोगों की हत्याएं की है. जिन लोगों का कत्ल हुआ उन्होंने खुद को जान से मारने की सहमति दी थी.

तकाहिरो पर लगे हैं संगीन आरोप
जापान की सरकारी मीडिया एनएचके के मुताबिक तकाहिरो पर दुष्कर्म, हत्या करने और मृतकों के शव को टुकड़ों में काटकर उनके अंगों को कूल बॉक्स में रखने जैसे गंभीर आरोप लगे हैं. तकाहिरो ने कोर्ट में माना कि उसके ऊपर लगाए गए सभी आरोप सही हैं लेकिन ये सब मारे गए लोगों की सहमति से ही हुआ है. तकाहिरो ने बताया कि वह ट्विटर के जरिए खुदकुशी करने की बात ऑनलाइन पोस्ट करने वाले 15 से 26 साल के लोगों से संपर्क करता था. तकाहिरो ऐसे लोगों से कहता था कि वह उनकी खुदकुशी की योजना में मदद कर सकता है. यहां तक कि उनके साथ खुद भी मार सकता है. कोर्ट में इस तरह की चैट भी सबूत के तौर पर सामने आयीं हैं.




लोगों की मर्जी साबित हुई तो मिलेगी कम सजा
तकाहिरो पर हत्या के आरोप साबित होते हैं तो जापान के कानून के मुताबिक उसे फांसी की सजा हो सकती है. वहीं, अगर मारे गए लोगों की मर्जी से उनकी हत्या करने की बात साबित होती है तो छह महीने से लेकर सात साल की सजा होगी. यही वजह है कि उसके वकील कोर्ट में यह साबित करने की कोशिश कर रहे हैं. बता दें कि तकाहिरो को पुलिस ने तीन साल पहले एक 23 साल की महिला के लापता होने के बाद गिरफ्तार किया गया था.





खबर के मुताबिक उस महिला ने लापता होने से पहले खुदकुशी करने की बात ट्वीट की थी. महिला के भाई ने अपनी बहन का ट्विटर हैंडल खोला था, जिसके बाद उसे तकाहिरो का ट्विटर हैंडल संदेहास्पद लगा और उसने पुलिस को इसकी जानकारी दी थी. इसके बाद पुलिस जब तकाहिरो के घर पहुंची तो वहां से टुकड़ों में बंटे 9 शव और 240 हड्डियां मिली थीं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज