पूर्व कानून मंत्री के गिरफ्तारी के बावजूद जापानी पीएम शिंजो आबे का बढ़ा समर्थन

पूर्व कानून मंत्री के गिरफ्तारी के बावजूद जापानी पीएम शिंजो आबे का बढ़ा समर्थन
जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे (File Photo)

जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे (Japanese Prime Minister Shinzo Abe) और उनके मंत्रिमंडल का सार्वजनिक समर्थन (Public Support) नौ प्रतिशत बढ़कर 36% हो गया है.

  • Share this:
टोक्यो. जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे (Japanese Prime Minister Shinzo Abe) और उनके मंत्रिमंडल का सार्वजनिक समर्थन (Public Support) नौ प्रतिशत बढ़कर 36% हो गया है. हैरानी की बात यह है कि यह बढ़त हाल ही में वोट खरीदने के संदेह में उनके पूर्व न्याय मंत्री की गिरफ्तारी (Ex. Law Minister Arrested) के बावजूद हुई है. रविवार को दिखाए मेनिची शिंबुन द्वारा किए गए एक पोल में यह बात सामने आई है. सरकार के समर्थन को मापने वाले अखबार के पिछले सर्वेक्षण में यह रेटिंग गिरकर 27% हो गई थी. यह सर्वेक्षण जापान में कोरोना की इमरजेंसी के दौरान मई के अंत में वरिष्ठ अभियोजक द्वारा जुए के कारण दिए इस्तीफा के तुरंत बाद करवाया गया था. मतदाता समर्थन में 30 % की गिरावट को खतरे का संकेत माना जाता है.

अपने नवीनतम सर्वेक्षण पर मेनिची रिपोर्ट जनता के समर्थन में इस बढ़त का कोई विशिष्ट कारण नहीं बता पाई है लेकिन इस पोल में शामिल 55% लोगों ने गुरूवार को सरकार के घरेलू यात्रा पर अंकुश लगाने के फैसले का स्वागत किया था जबकि पोल में शामिल 32% लोगों ने कहा कि इस प्रतिबंध को बने रहना चाहिए था.

59 फीसदी शिंजो आबे को मानते हैं जिम्मेदार



अभियोजकों ने गुरूवार को विदेश नीति सलाहकार और पूर्व कानून मंत्री काटसुयुकी कवाई और उनकी पत्नी जो नीति निर्माता हैं, दोनों को 2019 के उच्च-सदन चुनाव में वोट खरीदने के संदेह पर गिरफ्तार किया गया था. काटसुयुकी, शिंजे आबे के करीबी रहे हैं. इसके बावजूद आबे की सरकार के प्रति जनता का समर्थन बढ़ रहा है लेकिन पोल में शामिल 59% लोगों का मानना है कि वोट खरीदने वाले मामले में आबे भी जिम्मेदार हैं. आबे ने इस घोटाले पर जनता से यह कहते हुए माफी मांगी है कि उन्होंने पद पर कावई की नियुक्ति के लिए अपनी जिम्मेदारी को माना है.
ये भी पढ़ें: कोरोना संकट में दुनिया के लिए भारत बना औषधि केंद्र, 133 देशों को दवा सप्लाई की

राष्ट्रपति ट्रंप जल्द करेंगे नए वीजा प्रतिबंधों की घोषणा, भारतीयों को जॉब की होगी प्रॉब्लम

मेनिची सर्वेक्षण में यह बात भी सामने आई कि इस पोल में भाग लेने वाले 59% लोग इस बात पर यकीन नहीं करते कि इस साल जुलाई और अगस्त में होने वाले टोक्यो ओलम्पिक को कोरोना वायरस महामारी के कारण एक वर्ष के लिए स्थगित कर दिया गया है. वहीं दूसरी ओर 21% लोगों का इस बात पर यकीन है कि इस आयोजन को 2021 में आयोजित किया जा सकेगा. पब्लिक ब्रॉडकास्टर एनएचके (NHK ) के अनुसार जापान में कोरोना के केवल 18,000 मामले दर्ज हुए हैं और 954 मौते हुई हैं. जापान को कोरोनो वायरस संक्रमणों का सामना वैसे नहीं करना पड़ा जैसे कुछ अन्य देशों में विस्फोटक हालात दिख रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading