भारतीय-अमेरिकी महिला जेया को बाइडन ने विदेश मंत्रालय में अहम पद के लिए नामित किया

भारतीय-अमेरिकी महिला जेया को जो बाइडन ने विदेश मंत्रालय में अहम पद के लिए नामित किया है. (AP)

Ujra Jeya Nominated By Joe Biden for External Affairs: अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) ने देश के निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Doanld Trump) की नीतियों के विरोध में 2018 में विदेश सेवा छोड़ने वाली भारतीय अमेरिकी राजनयिक उजरा जेया (Ujra Jeya) को विदेश मंत्रालय के एक अहम पद के लिए शनिवार को नामित किया.

  • Share this:
    वाशिंगटन. अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) ने देश के निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Doanld Trump) की नीतियों के विरोध में 2018 में विदेश सेवा छोड़ने वाली भारतीय अमेरिकी राजनयिक उजरा जेया (Ujra Jeya) को विदेश मंत्रालय के एक अहम पद के लिए शनिवार को नामित किया. बाइडन द्वारा विदेश मंत्रालय के लिए घोषित अहम पदों के नामांकन के अनुसार, जेया को असैन्य सुरक्षा, लोकतंत्र और मानवाधिकार के लिए अवर मंत्री नामित किया गया है.

    किसको मिली कौन सी जिम्मेवारी?

    इसके अलावा वेंडी आर शेरमन को उप विदेश मंत्री, ब्रायन मैकेओन को प्रबंधन एवं संसाधन के लिए उपमंत्री, बोनी जेनकिंस को हथियार नियंत्रण एवं अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा मामलों के लिए अवर मंत्री और विक्टोरिया नुलैंड को राजनीतिक मामलों के लिए अवर मंत्री नियुक्त किया गया है.
    बाइडन ने कहा कि नामित विदेश मंत्री टोनी ब्लिंकन के नेतृत्व वाली यह विविधता भरी संपूर्ण टीम मेरे विश्वास का प्रतीक है कि जब अमेरिका अपने सहयोगियों के साथ मिलकर काम करता है, तो यह सबसे मजबूत होता है.

    ट्रंप की नीतियों के विरोध में जेया ने दिया था इस्तीफा

    उजरा जेया ने हाल में ‘अलायंस फॉर पीसबिल्डिंग’ की अध्यक्ष एवं सीईओ के रूप में सेवाएं दी हैं. उन्होंने 2014 से 2017 तक पेरिस स्थित अमेरिकी दूतावास में मिशन की उप प्रमुख के तौर पर भी सेवाएं दी थीं, लेकिन उन्होंने ट्रंप की नीतियों के विरोध में सितंबर 2018 में इस्तीफा दे दिया था.

    ये भी पढ़ें: बिल गेट्स बने अमेरिका के ‘सबसे बड़े किसान’,  खरीदी 2.42 करोड़ एकड़ खेती की जमीन 

    अमेरिका से 13 हजार किमी. की उड़ान भरकर ऑस्ट्रेलिया पहुंचे कबूतर की नहीं ली जाएगी अब जान

    जेया ने इससे पहले 2012 से 2014 तक लोकतंत्र, मानवाधिकार एवं श्रम ब्यूरो में कार्यवाहक सहायक मंत्री और प्रधान उप सहायक मंत्री के तौर पर सेवाएं दीं. वह 1990 में विदेश सेवा में शामिल हुई थीं और उन्होंने नयी दिल्ली, मस्कट, दमिश्क, काहिरा और किंग्स्टन में सेवाएं दी हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.