बाइडन की चेतावनी से रूस में हलचल! अमेरिका में अपने राजदूत को मॉस्को बुलाया

बाइडन ने कहा था कि पुतिन को 'कीमत चुकानी' पड़ेगी. (फाइल फोटो: Shutterstock)

बाइडन ने कहा था कि पुतिन को 'कीमत चुकानी' पड़ेगी. (फाइल फोटो: Shutterstock)

US-Russia Relations: अमेरिकी कॉमर्स डिपार्टमेंट ने घोषणा की कि वे एलेक्सी नवेलनी (Alexei Navalny) को जहर देने के लिए सजा के तौर पर रूस पर लगे निर्याण प्रतिबंधों को और सख्त कर रहे हैं. रूस ने मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए राजनयिक को देश वापस बुलाया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 18, 2021, 8:50 AM IST
  • Share this:
वॉशिंगटन. अमेरिकी खुफिया रिपोर्ट (US Intelligence Report) से रूस में उथल-पुथल मच गई है. रूस ने अमेरिका में अपने राजदूत को सलाह के लिए वापस बुलाया है. खास बात है कि बुधवार को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) को 'हत्यारा' बताया था. साथ ही उन्होंने कहा था कि पुतिन को 'कीमत चुकानी' पड़ेगी. इसके बाद रूस ने यह प्रतिक्रिया दी है. खुफिया रिपोर्ट में कहा गया है कि पुतिन ने बीते नवंबर को अमेरिका में हुए चुनाव में दखल दिया था.

एबीसी न्यूज को दिए इंटरव्यू में बाइडन से अमेरिकी खुफिया रिपोर्ट को लेकर सवाल किया गया था. इस रिपोर्ट में दावा किया गया है की पुतिन ने बाइडन की उम्मीदवारी को नुकसान पहुंचाने और ट्रंप के प्रचार में मदद की थी. बाइडन ने कहा 'उन्हें इसकी कीमत चुकानी होगी.' खास बात है कि पुतिन पर विपक्ष के नेता एलेक्सी नवेलनी को जहर देने के भी आरोप लगाए जा रहे हैं. बाइडन से सवाल किया गया कि क्या वे पुतिन को 'हत्यारा' मानते हैं, तो उन्होंने हां में जवाब दिया.

अमेरिकी कॉमर्स डिपार्टमेंट ने घोषणा की कि वे नवेलनी को जहर देने के लिए सजा के तौर पर रूस पर लगे निर्याण प्रतिबंधों को और सख्त कर रहे हैं. रूस ने मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए राजनयिक को देश वापस बुलाया है. हालांकि, रूस ने इस बात पर जोर दिया है कि वे दोनों देशों के बीच संबंधों को खराब नहीं करना चाहते हैं. रूस के विदेश मंत्रालय से जारी बयान के अनुसार, 'वॉशिंगटन में रूसी दूत एंटली एंटोनोव को सलाह के लिए मॉस्को आमंत्रित किया गया है.'



यह भी पढ़ें: खुफिया रिपोर्ट में खुलासा: पुतिन ने राष्ट्रपति जो बाइडन के खिलाफ की थी ट्रंप की मदद
बयान में कहा गया है कि इस आमंत्रण का मकसद इस बात का विश्लेषण करना है कि आगे क्या किया जा सकता है. साथ ही अमेरिका के साथ रिश्तों के संदर्भ में अब क्या करना है. रूस के उप विदेश मंत्री सार्जेई रेयाबकोव ने कहा है कि रूसी-अमेरिकी संबंधों को आगे खराब करने की जिम्मेदारी पूरी तरह अमेरिका के पास है.

वहीं, वॉशिंगटन ने भी रूस की प्रतिक्रिया को नोटिस किया है. अमेरिका ने कहा है कि रूस की तरफ से पेश की जा रहीं चुनौतियों को लेकर हमारी नजर एकदम साफ रहेगी. खास बात है कि 2017 में ट्रंप ने फॉक्स न्यूज को एक इंटरव्यू दिया था. इस दौरान उनसे पुतिन के 'हत्यारे' होने को लेकर सवाल किया गया था. इसपर उन्होंने कहा था 'यह कई हत्यारे हैं. आपको लगता है कि हमारा देश इतना मासूम है?'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज