पहली बार ISIS के गढ़ में पहुंचा जर्मन पत्रकार, लौटकर किए बड़े खुलासे

पहली बार ISIS के गढ़ में पहुंचा जर्मन पत्रकार, लौटकर किए बड़े खुलासे
आतंकी समूह आईएसआईएस को कवर करने वाले 74 वर्षीय जर्मन पत्रकार टोडनहोफर ने इस आतंकी समूह के बारे में सनसनीखेज खुलासा किया है।

आतंकी समूह आईएसआईएस को कवर करने वाले 74 वर्षीय जर्मन पत्रकार टोडनहोफर ने इस आतंकी समूह के बारे में सनसनीखेज खुलासा किया है।

  • Share this:
नई दिल्ली। आतंकी समूह आईएसआईएस को कवर करने वाले 74 वर्षीय जर्मन पत्रकार टोडनहोफर ने इस आतंकी समूह के बारे में सनसनीखेज खुलासा किया है। तुर्की से मुसौल तक घूमे इस पत्रकार ने अपना अनुभव साझा करते हुए कहा कि मैने उस खौफ को काफी करीब से देखा है जहां आतंकी लोगों की निर्मम हत्या करते हैं। उन्होने कहा कि आईएसआईएस के आतंकी की क्रूरता विश्व में अन्य आतंकी समूहों में सबसे ज्यादा है।

जर्मन पत्रकार ने कहा कि आईएसआईएस के आतंकी पूरे क्षेत्र में व्यापक रूप से फैले हैं। उन्होने कहा कि आतंकी मोसुल में लगभग 5,000 की संख्या में खंडहरों में फैले  हैं और उन के ठिकानों पर हमला करना आसान नहीं है। यही नहीं आतंकी ठिकाने बम की दीवारों से घिरे हुए हैं और उन ठिकानों पर हमला करने का मतलब बड़ी संख्या में निर्दोषों को भी मौत के घाट उतारना है।

पत्रकार ने खुलासा करते हुए कहा है कि आईएसआईएस ने अपने नियंत्रण वाले क्षेत्रों में सामाजिक कल्याण के लिए भी संस्थाएं खोल रखी है। यही नहीं पत्रकार ने कहा है कि इस क्षेत्र में कई स्कूल भी खोले गए हैं जहां विशेषकर लड़कियों को शिक्षा दी जाती है। उन्होंने कहा कि आईएसआईएस दुनिया को जीतना चाहता है और कुरान की व्याख्या में विश्वास नहीं करता है।



गौरतलब है कि आईएसआईएस ने पहली बार किसी पत्रकार को अपने क्षेत्र में आने की इजाजत दी थी और इसके लिए काफी चेतावनी भी दी गई थी। खास बात यह है कि यह पत्रकार भी उसी होटल में रुके थे जहां पहले एक अमेरिकी पत्रकार की हत्या कर दी गई थी। पत्रकार ने कहा है कि वह अपनी 10 दिन की इस यात्रा का सारांश प्रकाशित करेंगे।
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज