विमान हादसा: ईरान में खामनेई के खिलाफ सड़कों पर उतरे हजारों लोग, मांगा इस्तीफा

विमान हादसा: ईरान में खामनेई के खिलाफ सड़कों पर उतरे हजारों लोग, मांगा इस्तीफा
ईरान के सुप्रीम लीडर नेता अयातुल्ला अली खामनेई

ईरान (Iran) आर्मी ने शनिवार को अपनी गलती मानते हुए कहा था कि धोखे से उसने यूक्रेन (Ukraine) के विमान को मार गिराया. इसके बाद सरकार के विरोध में तेहरान (Tehran) की सड़कों पर हज़ारों की संख्या में लोग जमा हो गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 12, 2020, 8:30 AM IST
  • Share this:
तेहरान. यूक्रेन के विमान को गलती से मार गिराने के बाद ईरान (Iran) में हंगामा खड़ा हो गया है. शनिवार को सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते हुए हजारों की संख्या में लोग सड़कों पर उतर आए. इन प्रदर्शनकारियों  ने ईरान के सुप्रीम लीडर नेता आयतुल्ला अली खामनेई (Supreme Leader Ayatollah Ali Khamenei) के इस्तीफे की मांग की है.

'शर्म है तो देश छोड़ दो'
तेहरान में अमेरिकी दूतावास और अमीर काबिर यूनिवर्सिटी के बाहर हज़ारों की संख्या में लोग जमा हुए. इन सबके हाथों में पोस्टर्स और बैनर थे, जिस पर खामनेई को हटाने के नारे लिखे थे. इनका कहना था कि यूक्रेन के विमान को मार गिराए जाने को लेकर खामनेई ही ज़िम्मेदार हैं. इतना ही नहीं लोग यह भी कह रहे हैं कि अगर खामनेई को ज़रा भी शर्म है तो वो देश छोड़ कर चले जाएं.
स्टूडेंट्स की मौतईरान के फार्स (FARS) न्यूज़ एजेंसी के मुताबिक इस हादसे में ईरान के कई स्डूडेंट्स की मौत हो गई जो पढ़ाई के लिए कनाडा जा रहे थे. लोगों में इसी कारण ज्यादा गुस्सा है. बता दें कि इस हादसे में 176 लोगों की मौत हो गई, जिसमें ईरान के 82, कनाडा के 63, यूक्रेन के 11, स्वीडन के 10, अफगानिस्तान के 4 और जर्मनी-ब्रिटेन के 3-3 नागरिक थे.ट्रंप का ऐलानइस बीच अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी प्रदर्शनकारियों का साथ देने का ऐलान किया है. साथ ही ट्रंप ने कहा कि ईरान की सरकार को मानवाधिकार ग्रुप के लोगों को जांच की अनुमति देनी चाहिए. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है सरकार विरोधी प्रदर्शन पर उनकी नजर है. उन्होंने लिखा है, 'ईरान के बहादुर और लंबे समय से पीड़ित लोग मैं आपके साथ खड़ा हूं और मेरा प्रशासन भी आपके साथ खड़ा रहेगा. हम आपके विरोध को ध्यान से देख रहे हैं और आपके साहस से प्रेरित हैं.'




ईरान ने ली थी ज़िम्मेदारी
बता दें कि तेहरान एयरपोर्ट पर बुधवार की सुबह यूक्रेन के विमान हादसे की जिम्मेदारी ईरान ने ली है. ईरान ने अपनी गलती मानते हुए कहा कि धोखे से उसने यूक्रेन के विमान को मार गिराया था. ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जावेद जरीफ ने ट्वीट करते हुए कहा, एक बुरा दिन. सशस्त्र बलों की ओर से की गई आंतरिक जांच में पता चला है कि अमेरिका पर हमले के दौरान मानवीय गलती के चलते ये हादसा हो गया. हमें गहरा अफसोस है. हम उन परिवार के सदस्यों से माफी मांगते है जो इस गलती का शिकार हुए हैं.


ये भी पढ़ें- 
पाकिस्तान ने गोलाबारी करके नियंत्रण रेखा से लगे पुंछ के गांवों को निशाना बनाया

'पहली बार सेना पुलिस में शामिल होंगी महिलाएं, 100 महिलाएं कर रही ट्रेनिंग'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज