लाइव टीवी

किम ने उत्तर कोरिया स्थित दक्षिण कोरिया के भवनों को नष्ट करने का दिया आदेश

भाषा
Updated: October 23, 2019, 3:05 PM IST
किम ने उत्तर कोरिया स्थित दक्षिण कोरिया के भवनों को नष्ट करने का दिया आदेश
किम ने दक्षिण कोरिया के भवनों को नष्ट करने का दिया आदेश

माउंटेन रिजॉर्ट में स्थित दक्षिण कोरिया (South Korea) निर्मित होटलों और अन्य पर्यटन भवनों को नष्ट करने का किम जोंग उन (kim jong un) ने दिया आदेश.

  • Share this:
सियोल. उत्तर कोरिया (North Korea) के नेता किम जोंग उन (kim jong un) ने उत्तर कोरिया के डायमंड माउंटेन रिजॉर्ट में स्थित दक्षिण कोरिया (South Korea) निर्मित होटलों और अन्य पर्यटन भवनों को नष्ट करने का आदेश दिया है. उत्तर कोरिया ऐसा इसलिए कर रहा है क्योंकि दक्षिण कोरिया अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों की अवहेलना नहीं करेगा और उस स्थान पर अपने पर्यटन को बहाल भी करेगा.

उत्तर कोरिया की सरकारी संवाद समिति कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी ने बुधवार को कहा कि किम ने रिजॉर्ट का दौरा किया और उसकी सुविधाओं को जर्जर तथा उसमें राष्ट्रीयता की कमी बतायी. खबर के अनुसार किम ने अपने दिवंगत पिता के समय की उत्तर कोरिया की उन नीतियों की आलोचना की जो काफी हद तक दक्षिण कोरिया पर निर्भर थीं.

केसीएनए की रिपोर्ट के अनुसार किम ने दक्षिण कोरिया के अधिकारियों के साथ इस मुद्दे पर चर्चा के बाद अपने अधिकारियों को दक्षिण कोरिया द्वारा निर्मित कम आकर्षक भवनों को नष्ट करने और अपने तरीके से नये आधुनिक सेवा भवनों के निर्माण का निर्देश दिया जो माउंट कुमकांग के प्राकृतिक परिदृश्य के साथ मेल खाता हो.

डायमंड माउंटेन में 2008 में एक पर्यटक की मौत के बाद दक्षिण कोरिया ने वहां पर्यटन बंद कर दिया था. इसके अनुसार उत्तर कोरिया के विरूद्ध प्रतिबंधों का विरोध किये बिना अंतर कोरियाई आर्थिक गतिविधियां फिर से शुरू नहीं हो सकती हैं. दोनों कोरियाई देशों के बीच 2016 तक आर्थिक गतिविधियां मजबूत हुई थीं लेकिन इसके बाद उत्तर कोरिया ने अपने परमाणु कार्यक्रम में तेजी लानी शुरू कर दी.

ये भी पढ़ें : संसद में पास हुआ ब्रेक्जिट बिल, जॉनसन ने विधेयक पर लगाया ‘अल्पविराम’

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 23, 2019, 3:05 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...