लाइव टीवी

हेलिकॉप्टर से उतरे कमांडो और डॉग स्क्वॉड से घिर गया था बगदादी- ISIS सरगना की मौत की पूरी कहानी

News18Hindi
Updated: October 28, 2019, 10:34 AM IST
हेलिकॉप्टर से उतरे कमांडो और डॉग स्क्वॉड से घिर गया था बगदादी- ISIS सरगना की मौत की पूरी कहानी
बगदादी अपने आखिरी समय में अमेरिकी सेना से छिप कर भाग रहा था.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने कहा कि आईएसआईएस (ISIS) सरगना बगदादी (Baghdadi) कुत्ते की मौत मारा गया. उनके ऐसा कहने के पीछे की वजह इस कहानी में छिपी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 28, 2019, 10:34 AM IST
  • Share this:
वॉशिंगटन. सीरिया (Syria) के इदलीब प्रांत स्थित बारिशा में शनिवार रात लोगों को आए दिन होने वाला शोर सुनाई दिया. हालांकि कुछ ही देर में यह स्पष्ट हो गया है कि यहां कोई सैन्य कार्रवाई हो रही है. हालांकि यह कोई रोज होने वाली लड़ाई नहीं थी. इस लड़ाई में आईएसआईएस (ISIS) के आतंकियों ने सरेंडर कर दिया था.

अंग्रेजी अखबार डेली मेल की एक रिपोर्ट के अनुसार आईएसआईएस के आतंकियों पर हुआ अमेरिका का यह अटैक काफी चौंकाने वाला था. बारिशा (Barisha) में अमेरिकी सैनिक आतंकी अबू बकर अल बगदादी (Abu Bakr al-Baghdadi) की खोज करते हुए यहां पहुंचे थे.

फिल्मी है बगदादी के मारे जाने की कहानी
बगदादी के मारे जाने की पूरी कार्रवाई पूरी तरह फिल्मी तरीके से हुई. इतना ही नहीं इस कार्रवाई को डोनाल्ड ट्रंप अपने दफ्तर में बैठे देख रहे थे. ट्रंप ने बताया कि बगदादी के ठिकानों को हेलिकॉप्टर्स से घेर लिया गया.

इसके बाद वहां अमेरिकी सेना के 70 डेल्टा कमांडोज़ उतरे और फिर बगदादी के बंकर को घेर लिया. इसी बंकर में छिपकर बगदादी दुनिया भर में दहशत फैलाता था. रिपोर्ट के अनुसार बगदादी को घेरने के लिए डेल्टा कमांडोज के साथ ही हाई ट्रेन्ड डॉग्स और एक रोबोट था जो आत्मघाती हमलों का सामना कर सकते थे. अमेरिकी कमांडोज़ के मिशन का सिर्फ दो ही उद्देश्य था, या तो बगदादी को मारना या फिर उसे जिंदा पकड़कर लाना.

बगदादी, अमेरिका, विश्व समाचार, दुनिया, आईएसआईएस, आतंकवाद, आतंकवादी,baghdadi,america,world news,world, isis, terrorism, terrorist कैसे मरा बगदादी
लाल घेरे में जो घर दिख रहा है इसी घर में वह रहता था.


पहले घेरा बगदादी का बंकर, लेकिन तोड़ा दरवाजा...
Loading...

बगदादी के बंकर को घरेने के बाद कमांडोज़ पूरी सतर्कता से आग बढ़ रहे थे. सावधानी बरतते हुए घर का दरवाजा ना तोड़ते हुए उसकी दीवार तोड़ दी गई. इसमें बगदादी की दो पत्नियां भी रह रहीं थीं और दोनों ने आत्मघाती हमले के लिए शरीर पर बम लगा रखा था, लेकिन उन्होंने खुद को उड़ाया नहीं और सैन्य कार्रवाई में मारी गईं. अमेरिकी फायरिंग के दौरान बगदादी की सुरक्षा में लगे लड़ाके भी मार गिराए गए.

ऐसे में अकेले घिर चुके बगदादी ने भागने का फैसला किया. बददादी की मंशा को तुरंत ही भांप कर अमेरिकी सेना ने फैसला किया कि बंकर से भागने वाले सभी संभावित रास्तों को बंद कर दिया.

बगदादी, अमेरिका, विश्व समाचार, दुनिया, आईएसआईएस, आतंकवाद, आतंकवादी,baghdadi,america,world news,world, isis, terrorism, terrorist कैसे मरा बगदादी
अमेरिकी सैनिकों के हमले के बाद जमींदोज हुआ मकान


सरेंडर नहीं बगदादी ने किया भागने का फैसला
इस दौरान कई आंतिकियों ने अपना अंत करीब देखकर सरेंडर कर दिया. लेकिन बगदादी ने सरेंडर करने के बजाय भागने का फैसला किया. जब वह भागने लगा तो अमेरकि कमांडोज़ ने कुत्तों के साथ बगदादी का पीछा किया. बगदादी अपने साथ तीन बच्चे भी बंकर में लेकर चला गया था. कार्रवाई में तीन बच्चों की मौत भी हो गई. इसके बाद बुरी तरह से घिर चुके बगदादी ने खुद को उड़ा लिया.

बगदादी की मौत के बाद वहां मौके पर ही डीएनए का मिलान किया गया. इसके बाद पुष्टि की गई कि बगदादी इस हमले में मारा जा चुका है.

यहां तक कैसे पहुंचे अमेरिकी सैनिक
अमेरिकी सैनिकों को बगदादी तक पहुंचने के लिए रूसी, सीरियाई और तुर्की हवाई क्षेत्र को पार करना पड़ा. अमेरिकी कमांडरों ने मॉस्को, दमिश्क और अंकारा को सूचित किया कि कुछ 'बड़ा' 'होने वाला है, लेकिन उन्होंने सारी जानकारी नहीं दी. इस टीम में चिनूक और ब्लैक हॉक्स हेलिकॉप्टर्स गए थे.

यह भी पढ़ें:  जमीन में बड़ा गड्ढा, खून से सने चीथड़े: TV ने दिखाया बगदादी पर हमले का वीडियो

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेरिका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 28, 2019, 10:02 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...