ऑस्ट्रेलिया के 'एग बॉय' ने क्राइस्टचर्च हमले के पीड़ितों को दान किए 48 लाख रुपये

ऑस्ट्रेलिया के 'एग बॉय' ने क्राइस्टचर्च हमले के पीड़ितों को दान किए 48 लाख रुपये
अंडा फेंकने की घटना के बाद लोगों ने विल कोनॉली के लिए ऑनलाइन चंदा इकट्ठा किया था, जिसे उसने दान कर दिया.

17 साल के विल कोनॉली ने क्राइस्टचर्च हमले को कट्टरपंथ का जवाब बताने वाले सीनेटर को मारा था अंडा. लोगों ने उसके लिए इकट्ठा किया ऑनलाइन चंदा. विल ने पूरी रकम पीड़ितों को दे दी.

  • Share this:
न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च की मस्जिद में की गई ताबड़तोड़ गोलीबारी को कट्टरपंथ का जवाब बताने वाले ऑस्ट्रेलिया के सीनेटर फ्रेजर एनिंग पर अंडा फेंकने वाले युवक ने हमले में मारे गए लोगों के परिजनों को एक लाख ऑस्ट्रेलियाई डॉलर (करीब 48 लाख रुपये) दान किए हैं. दरअसल, अंडा फेंकने की घटना के बाद आम लोगों ने 17 साल के विल कोनॉली के लिए ऑनलाइन चंदा इकट्ठा किया था. उसने दान में मिली पूरी राशि दान कर दी. बता दें कि क्राइस्टचर्च हमले में 51 लोगों की मौत हो गई थी.

‘एग बॉय’ के नाम से मशहूर विल कॉनोली ने वेबसाइट ‘गो फंड मी पेज’ के जरिये राशि दान की. कॉनोली ने अपने इंस्टाग्राम पर लिखा कि मैंने 99,922.36 ऑस्ट्रेलियाई डॉलर क्राइस्टचर्च फाउंडेशन और ‘विक्टिम सपोर्ट’ संस्था को क्राइस्टचर्च हमले के पीड़ितों की मदद के लिए दिए हैं. न्यूजीलैंड में ‘विक्टिम सपोर्ट’ के प्रवक्ता ने कॉनोली से चंदा मिलने की पुष्टि की है. संस्था के सीईओ केविन शॉ ने कहा कि दान राशि से पीड़ितों को बड़ी मदद मिलेगी. पीड़ितों के लिए न्यूजीलैंड के लोगों की सहानुभूति प्रशंसा के लायक है. इससे उनके जीवनस्तर में सुधार आएगा.

विल ने दान की गई राशि के बारे में इंस्टाग्राम पर जानकारी दी.




15 मार्च को न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च की अलनूर और लिनवुड मस्जिद में गोलीबारी हुई थी. हमले में 51 लोग मारे गए थे. इसके बाद जब पूरी दुनिया घटना की निंंदा कर रही थी, तब ऑस्ट्रेलिया के सीनेटर फ्रेजर एनिंग ने हमले को लेकर विवादित बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में मुस्लिम प्रवासियों की बढ़ती संख्या क्राइस्टचर्च हमले के मुख्य कारणों में एक है. एनिंग की इस टिप्पणी की पूरी दुनिया में काफी निंदा हुई थी.
जिस समय एनिंग ने यह बयान दिया उसी दौरान विल कॉनोली ने सीनेटर पर अंडा फेंक दिया था. इस पर एनिंग ने कॉनोली को घूसा मार दिया था. उनके समर्थकों ने विल को जमीन पर गिरा दिया था. पुलिस कॉनोली को पकड़कर ले गई थी. हालांकि, बाद में उसे बिना केस दर्ज किए छोड़ दिया गया. घटना के बाद कोलॉनी दुनियाभर में लोकप्रिय हो गया. काफी लोगों ने उसकी हिम्मत की तारीफ की थी.

ये भी पढ़ें:

अब तक की सबसे बड़ी 'तबाही' की ओर बढ़ा पाकिस्तानी रुपया! दुनिया में हुआ सबसे ज्यादा कमजोर

अमेठी में राहुल गांधी को धूल चटाने वाली स्मृति ईरानी ने ली मंत्रीपद की शपथ

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading