पत्नी को ग्रेजुएशन करने से रोकने को काट दीं पांचों उंगलियां

पत्नी को ग्रेजुएशन करने से रोकने को काट दीं पांचों उंगलियां
हवा अख्तर के यूएई में काम करने वाले पति रफीकुल ने पढ़ाई नहीं रोकने पर अंजाम भुगतने की धमकी दी थी.

सऊदी अरब में काम करता है आठवीं पास रफीकुल इस्लाम. सरप्राइज की बात कहकर रफीकुल ने पत्नी हवा अख्तर की आंखों पर पट्टी बांध दी. फिर वारदात को दिया अंजाम.

  • Share this:
पत्नी को उच्च शिक्षा हासिल करने से रोकने के लिए उसकी उंगलियां काटने के आरोप में एक रूढ़िवादी और ईर्ष्यालु पति जेल में है. दरअसल, रफीकुल इस्लाम (30) की पत्नी ने बिना उसकी मंजूरी लिए ग्रेजुएशन की पढ़ाई शुरू कर दी थी. उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. मानवाधिकार संगठनों ने रफीकुल को उम्रकैद की सजा देने की मांग की है.

बांग्लादेश के ढाका की हवा अख्तर (21) ने बताया, 'मेरे पति ने कहा कि वह मुझे सरप्राइज देने जा रहा है. फिर उसने मेरी आंखों पर पट्टी बांध दी और मुंह पर टेप लगा दिया. इसके बाद उसने मेरा हाथ पकड़कर मेरी पांचों उंगलियां काट दीं.'

कूड़ेदान में फेंक दीं कटी हुई उंगलियां 



हवा अख्तर ने बताया कि उसके पति के एक रिश्तेदार ने कटी हुई उंगलियां उठाकर कूडेदान में डाल दीं ताकि कोई डॉक्टर उन्हें जोड़ न पाए. रफीकुल सऊदी अरब में काम करता है. उसने हवा अख्तर को पढ़ाई जारी रखने पर अंजाम भुगतने की धमकी भी दी थी. बावजूद इसके उसने अपनी पढ़ाई जारी रखी. इसके बाद वह बांग्लादेश आया. उसने कहा कि वह हवा अख्तर से बातचीत करना चाहता है. फिर उसने वारदात को अंजाम दिया.



बायें हाथ से लिखना सीख रही है हवा अख्तर 

अख्तर ने कहा कि वह अपने बायें हाथ से लिखना सीख रही है. वह अपनी पढ़ाई जारी रखना चाहती है. इलाज के बाद वह अपने माता-पिता के घर आ गई है. बांग्लादेश में हाल में कई मुस्लिम महिलाओं पर पढ़ाई को लेकर हमले हुए हैं. जून में एक बेरोजगार आदमी ने ढाका यूनिवर्सिटी में असिस्टेंट प्रोफेसर पत्नी की आंखें इसलिए निकाल लीं ताकि वह कनाडा यूनिवर्सिटी से उच्च शिक्षा हासिल न कर सके.

आठवीं पास रफीकुल ने ईर्ष्या में की वारदात 

बांग्लादेश के पुलिस प्रमुख मोहम्मद सलाउद्दीन ने बताया कि रफीकुल को ढाका में गिरफ्तार कर लिया गया. पूछताछ में उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. उस पर उंगलियां काटने के आरोप में मामला चालाया जाएगा. सलाउद्दीन ने कहा कि वह गुस्से में था. वह खुद आठवीं पास है, जबकि हवा अख्तर ग्रेजुएशन में कर रही है. इसलिए उसने ईर्ष्या में वारदात को अंजाम दिया.

ये भी पढ़ें:

श्रीलंका में फिर भड़के दंगे, लगाया गया कर्फ्यू

पाकिस्तान की मदद को भेजा जाने वाला पैसा अब यहां खर्च कर रहा अमेरिका

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading