Home /News /world /

kremlin spokeswoman erupts at brave russian student for questioning putins war

यूक्रेन युद्ध और क्रीमिया के जनमत संग्रह पर छात्रा ने उठाए सवाल, क्रेमलिन की प्रवक्ता भड़कींं

रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जखारोवा (फाइल फोटो)

रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जखारोवा (फाइल फोटो)

रूस के येकेतेरिनबर्ग शहर स्थित यूराल फेडरल यूनिवर्सिटी में वार्ता के दौरान एक छात्रा ने रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जखारोवा के सामने कहा कि पुतिन ने यूक्रेन की स्वतंत्रता और संप्रभुता को नजरअंदाज किया है, जिस पर प्रवक्ता भड़क गईं.

अधिक पढ़ें ...

मॉस्को. रूस के येकेतेरिनबर्ग शहर स्थित यूराल फेडरल यूनिवर्सिटी में वार्ता के दौरान एक छात्रा ने रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जखारोवा के सामने व्लादिमीर पुतिन द्वारा यूक्रेन की स्वतंत्रता की अनदेखा करने और फरवरी में उस पर आक्रमण करने के फैसले पर सवाल उठाए. छात्रा के सवालों को सुनकर जखारोवा भड़क गईं. ब्रिटिश अखबार एक्सप्रेस के मुताबिक छात्रा ने जखारोवा से पूछा कि रूसी सरकार और विदेश मंत्रालय दशकों से देश की संप्रभुता और राष्ट्रों की स्वतंत्रता के अधिकारों को लेकर गर्व से बात करता है, लेकिन पुतिन ने अचानक यूक्रेन की स्वतंत्रता और उसकी संप्रभुता को नजरअंदाज करने का फैसला कर लिया. इस पर जखारोवा छात्रा को रोका और कहा कि हमने यूक्रेन की संप्रभुता की कभी अनदेखी नहीं की है. क्रेमलिन की प्रवक्ता ने कहा कि हम उन कुछ देशों में से एक हैं, जिन्होंने देशों की स्वतंत्रता और संप्रभुता को केवल कागज पर ही नहीं, बल्कि वास्तव में भी माना है.

इसके बाद छात्रा ने क्रीमिया के विलय को लेकर आयोजित किए गए ‘जनमत संग्रह’ की वैधता पर भी सवाल उठाया और उसे अवैध बताया. इस पर प्रवक्ता भड़क उठीं और कहा कि आप जनमत संग्रह को अवैध क्यों मानते हैं? इस पर छात्रा ने जवाब दिया कि क्योंकि संग्रह में अंतरराष्ट्रीय समुदाय का कोई प्रतिनिधि नहीं था. इस पर जखारोवा ने चीखते हुए पूछा कि तुमसे यह किसने कहा? तुम्हारा क्या मतलब है? संग्रह में बहुत सारे अंतरराष्ट्रीय पर्यवेक्षक थे!

इस बीच यूक्रेन के साथ चल रहे युद्ध पर रूसी रक्षा मंत्रालय ने कहा कि रूस ने कई यूक्रेनी कमांड पोस्ट पर हमला किया है. रूस के 24 फरवरी के आक्रमण के बाद से पश्चिम ने यूक्रेन को हथियारों की आपूर्ति बढ़ा दी है और रूस की सेना उन्हें रोकने और नष्ट करने की कोशिश कर रही है. मॉस्को का कहना है कि कीव को हथियारों की डिलीवरी और रूसी अर्थव्यवस्था के खिलाफ कठोर प्रतिबंध लगाना, संयुक्त राज्य अमेरिका और उसके सहयोगियों द्वारा प्रॉक्सी वॉर जैसा है.

पढ़ें –रूस का बड़ा ऐलान- राष्ट्रपति जो बाइडन सहित 963 अमेरिकियों को उनके देश में अब नहीं मिलेगी एंट्री

इससे पहले रूसी सेना ने शनिवार को कहा कि उसने यूक्रेन के जाइटॉमिर क्षेत्र में पश्चिमी हथियारों की एक बड़ी खेप को समुद्र से लॉन्च की गई क्रूज मिसाइलों का उपयोग करके नष्ट कर दिया.

Tags: Russia ukraine war

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर