बारिश के कारण म्यांमार में बड़ा हादसा, भूस्खलन से 123 लोगों की मौत

बारिश के कारण म्यांमार में बड़ा हादसा, भूस्खलन से 123 लोगों की मौत
म्यामां में भूस्खलन से 123 लोगों की मौत (अल जजीरा)

म्यांमार में खनन स्थलों पर इस तरह के हादसे प्राय: होते रहते हैं. 2015 में भी इसी तरह के एक हादसे में 113 लोगों की मौत (Death) हो गई थी.

  • Share this:
हपाकांत. म्यांमार के काचिन राज्य में आभूषणों में इस्तेमाल होने वाले हरे पत्थर की एक खदान में बृहस्पतिवार को भूस्खलन होने से कम से कम 123 लोगों की मौत (Death) हो गई. म्यांमार के सूचना मंत्रालय की ओर से जारी बयान में बताया गया कि हपाकांत में दुर्घटनास्थल से 123 शव बरामद किए जा चुके हैं. म्यामां अग्निशमन विभाग (Myanmar Fire Department) ने यह संख्या 126 बताई है. विभाग ही यहां बचाव एवं अन्य आपात सेवा की देखरेख कर रहा है. अग्निशमन विभाग ने एक बयान में बताया कि खदान में खनिक कीचड़ में दब गए.

दुर्घटना काचिन राज्य के हपाकांत में हुई. यह क्षेत्र म्यांमार के सबसे बड़े शहर यांगून के उत्तर में है और यह विश्व का सबसे बड़ा जेड खदान उद्योग है. म्यामां में खनन स्थलों पर इस तरह के हादसे प्राय: होते रहते हैं. 2015 में भी इसी तरह के एक हादसे में 113 लोगों की मौत हो गई थी. सिन्हुआ समाचार एजेंसी ने एक बचाव कर्मी के हवाले से बताया कि 304 मीटर से अधिक ऊंची चट्टान ढह गई, बारिश के कारण पानी भर जाने के बाद ये भूस्खलन हुआ. अग्निशमन सेवा विभाग के अनुसार दुर्घटना सुबह करीब 8 बजे हुई है. हादसे के वक्त मौजूद लोगों ने बताया कि उन्होंने देखा कि कुछ लोग मलबे पर मौजूद थे जो ढहने की कगार पर था. देखते ही देखते थोड़ी देर में पहाड़ी से पूरा मलबा भरभराकर नीचे आ गिरा, जिसकी चपेट में आने से लोग मारे गए.

ये भी पढ़ें: बेबी मूवमेंट के VIDEO में कैद हुई अजीब परछाईं, प्रेग्नेंट महिला की निकल गई चीख



यहां अक्सर होता है भूस्खलन
जेड की भूमि के रूप में जाना जाने वाला काचिन राज्य में घातक भूस्खलन अक्सर होता है. कई स्थानीय लोग इस क्षेत्र में जीवन यापन करते हैं. ज्यादातर भूस्खलन बांधों के आंशिक रूप से गिरने के कारण होते हैं. बता दें कि म्यांमार में दुनिया में सबसे अधिक जेड पत्थर या हरिताश्म यानी हरे रंग के कीमती रत्न पाए जाते हैं. म्यांमार हर साल जेड पत्थरों का लगभग 30 अरब डॉलर का कारोबार करता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading