भारतीय एजेंसियों की दी जानकारी मुझ तक नहीं पहुंची इसलिए हुआ ईस्टर जैसा हादसा: श्रीलंकाई राष्ट्रपति

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने कहा कि अगर उन्हें संबंधित अधिकारियों द्वारा इसकी जानकारी दी जाती तो इसे रोका जा सकता था.

भाषा
Updated: July 31, 2019, 9:03 PM IST
भारतीय एजेंसियों की दी जानकारी मुझ तक नहीं पहुंची इसलिए हुआ ईस्टर जैसा हादसा: श्रीलंकाई राष्ट्रपति
श्रीलंकाई राष्ट्रपति मैत्रीपाल सिरिसेना ने कहा है कि उन्हें ईस्टर हमलों की जानकारी नहीं थी (फाइल फोटो)
भाषा
Updated: July 31, 2019, 9:03 PM IST
श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने दावा किया कि उन्हें ईस्टर संडे के दिन हुए आतंकी हमले से पहले भारतीय खुफिया एजेंसियों से मिली चेतावनी की जानकारी नहीं थी. उन्होंने कहा कि अगर उन्हें संबंधित अधिकारियों द्वारा इसकी जानकारी दी जाती तो इसे रोका जा सकता था.

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने पिछले महीने स्पष्ट तौर पर कहा था कि 21 अप्रैल को हुए आतंकी हमले के संबंध में भारतीय खुफिया एजेंसियों ने 21 दिन पहले ही संभावित हमले की जानकारी दी थी, लेकिन उन्हें इस बारे में कोई सूचना नहीं मिली. ईस्टर के मौके पर हुए इस हमले में 258 लोगों की मौत हो गई थी.

राष्ट्रपति को हमले से पहले विदेश दौरे पर जाने तक नहीं थी इसकी जानकारी
राष्ट्रपति ने कहा कि वह 16 अप्रैल को विदेश यात्रा पर रवाना हुए लेकिन तब तक उन्हें भारत द्वारा दी गई खुफिया रिपोर्ट की जानकारी नहीं थी. हालांकि उस समय इस मुद्दे पर रक्षा सचिव और तत्कालीन पुलिस महानिरीक्षक के बीच बातचीत हुई थी.

उन्होंने शांति, सौहार्द और सह-अस्तित्व विषय पर एक राष्ट्रीय सम्मेलन के दौरान मंगलवार को कहा, ‘‘ मैं 21 अप्रैल के हमले के संबंध में मिली चेतावनी से अवगत नहीं था, लेकिन अगर रक्षा प्रतिष्ठानों से जुड़े अधिकारियों ने मुझे इसकी जानकारी दी होती तो मैं इसे रोकने के लिए जरूरी कदम उठाता.’’

राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने कहा कि मेरी गलती नहीं, मुझे देर से मिली जानकारी
श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने कहा, ‘‘ इस हमले को रोकने के लिए कुछ नहीं करने का आरोप मुझ पर लगा, लेकिन सच्चाई यह है कि मुझे पहले इसकी जानकारी ही नहीं मिली थी.’’
Loading...

उन्होंने कहा कि इस हमले ने देश के समुदायों में डर का माहौल बना दिया. सिंहली, तमिल और मुस्लिम एक-दूसरे पर संदेह करने लगे हैं.

राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘ ईस्टर संडे हमले में जिनकी भी मौत हुई, वे श्रीलंका के थे. और किसी को भी इस बात पर भी विचार करना चाहिए कि हमले के बाद भड़के दंगों में मुस्लिमों को भी नुकसान हुआ.’’

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान में पुलिस टीम पर हमला, विस्फोट में 5 लोगों की मौत
First published: July 31, 2019, 8:59 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...