लाइव टीवी

कोरोना संकट से बहुत तेजी से उबर सकता है अमेरिका, इस विशेषज्ञ ने बताया कैसे

Vikas Sharma | News18Hindi
Updated: April 3, 2020, 7:30 PM IST
कोरोना संकट से बहुत तेजी से उबर सकता है अमेरिका, इस विशेषज्ञ ने बताया कैसे
कोरोना संकट के कारण अमेरिकी अर्थव्यवस्था को तगड़ा झटका लगा है.

अमेरिकी वित्त विशेषज्ञ लैरी समर्स (Larry Summers) ने कोरोना संकट (Corona Cirsis) की वजह से अमेरिका (USA) पर हो रहे प्रभावों इससे निकलने की संभावनाओं पर विस्तार से बात की. उन्होंने बताया कि अमेरिका के सामने इसकी वजह से उपजे आर्थिक संकट को लेकर क्या आर्थिक चुनौतियां है.

  • Share this:
नई दिल्ली: कोरोना वायरस Corona virus) की वजह से अमेरिका (USA) में हालात खराब होते जा रहे हैं. अब तक यहां 2 लाख 45 हजार से ज्यादा संक्रमण  और छह हजार से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं. ये आंकड़ा पिछले कुछ दिनों ने तेजी से बढ़ रहा है. इन हालातों के बीच अमेरिका के पूर्व राजकोषीय सचिव, राष्ट्रीय आर्थिक सलाहकार लैरी समर्स(Larry Summers) का मानना है कि भले ही हालात अभी नाजुक हों, लेकिन अमेरिका उम्मीद से कहीं जल्दी इस संकट से उबर सकता है.

बुरे हाल के बाद भी उम्मीद
लैरी को लगता है कि अमेरिका के लोग पहले भी कैटरीना से खौफजदा हो चुके हैं वे तब भी इस बात से नाराज थे कि हम क्यों उस तरह की आपदा के लिए तैयार नहीं थे. समर्स मानते हैं कि लापरवाही और नाकामी इस बार भी हावी रही, लेकिन उन्हें पूरी उम्मीद है कि वायरस को काबू में किया जा सकता है.

बहुत ज्यादा असर पड़ा है आपदा का



समर्स ने यह बात हाल ही में द वेनिटी को दिए एक इंटरव्यू में कहीं. उन्होंने माना की इस तरह की आपदा उन्होंने पहले कभी नहीं देखी है. उन्होंने कहा कि सोशल लॉक डाउन में काम करने वाले एक तिहाई लोग काम नहीं कर पा रहे हैं. समर्स ने बताया कि अमरीकी अर्थव्यवस्था पर इसका बहुत ज्यादा असर पड़ा है. लोग या तो घर से काम कर रहे हैं जिसमें उनके जैसे अर्थशास्त्री शामिल हैं या फिर एंबुलेंस ड्राइवर जैसे लोग हैं जो घर से बाहर काम कर रहे हैं.



ऐसे लोगों को है ज्यादा परेशानी
इसके अलावा एक श्रेणी और है जो काम ही नहीं कर पा रही है जिसमें बुकस्टोर पर काम करने वाले जैसे बहुत से लोग हैं. ऐसे लोग ज्यादा तकलीफ में हैं जो न तो बाहर जा सकते हैं और न ही घर पर काम कर सकते हैं. इससे बहुत नकुसान हो रहा है. ये कब खत्म होगा और इकोनॉमी इससे कब उबरेगी, ये दो अहम सवाल हैं.

USA , US Economy
अमरीकी अर्थव्यवस्था को पटरी पर आने में समय लग सकता है ,लेकिन लैरी समर्स ऐसा नहीं सोचते.


फिर भी तेजी से हो सकता है सुधार
इन दो सवालों के जवाब पर समर्स का कहना है कि इन हालातों से आक्रामकता से निपटने की जरूरत है. इससे शायद देश जल्दी उबर जाए.  समर्स आशावादी अनुमान लगाते हुए कहते हैं कि जितना बहुत से लोग उम्मीद कर रहे हैं सुधार उससे ज्यादा तेजी से होगा. क्योंकि हर बार अमेरिका में सुधार जल्दी ही होता है.

सभी कुछ एकदम से नहीं होगा ठीक
इस बात पर कि अमेरिका में संक्रमण की संख्या कम क्यों नहीं हो रही है. जबकि दूसरे कई देशों में ऐसा हो रहा है, समर्स ने कहा हमारे आंकड़े ज्यादा सटीक है, लेकिन ये पिछले तीन सप्ताह में संक्रमित हुए लोगों के बारे में हैं. फिर भी अभी जिन्होंने टेस्ट कराया है. फिर भी यह संख्या कम होने लगेगी और दो-तीन हफ्तों में हम रोक हटाने लगेंगे. लेकिन सारी गतिविधियां एकदम से शुरू नहीं हो जाएंगी. शायद छह हफ्ते बाद से लोग थिएटर, रेस्तरां भी जा सकें. तब सुधार शुरू हो जाएगा और तेजी से होगा.

हो सकता है जीडीपी में सुधार
लैरी ने बताया कि अगर देश के कई हिस्सों में स्कूल खुल गए तो हमारी जीडीपी 2021 के बीच तक 2019 के पहली तिमाही के स्तर पहुंच सकती है. 2021 के अंत तक रोजगार की दर सामान्य तक पहुंच सकती है. लेकिन काफी कुछ इस पर निर्भर करता है कि वायरस और सरप्राइज न दे जो कि हमारे अनुशासन पर निर्भर करेगा, नीति निर्माता जल्दी से रोक न हटाएं इस पर भी. ये सब बहुत निश्चित नहीं है.

Corona, corona viurs
कोरोना वायरस के मामले दुनिया भर में तेजी से बढ़ रहे हैं.


इन क्षेत्रों में लगे समय
समर्स ने आने वाले समय को चुनौतीपूर्ण बताया. उनका मानना है कि कुछ क्षेत्रों जैसे एविएशन, ऑटोमोबाइल वगैरह में नुकसान तो तय है, लेकिन सरकार को लोगों के बारे में ध्यान रखते हुए और अर्थव्यवस्था को सक्रिय बनाए रखने के लिए फैसले लेने चाहिए. वे ये भी मानते हैं कि बड़ी कंपनियों को भी इस नुकसान की कुछ जिम्मेदारी लेनी चाहिए.

इस संकटके बाद समर्स मानते हैं कि लोगों की सरकार के प्रति धारणा बदल जाएगी. जो लोग मानते थे कि सरकार समस्या है समाधान नहीं वे गलत साबित होंगे.

यह भी पढ़ें:

आतंकी उमर शेख को रिहा करेंगे इमरान खान! कंधार कांड में भारत ने इसे छोड़ा था

अप्रैल के आखिर तक काबू में आ जाएगा कोरोना, चीन के एक्सपर्ट डॉक्टर का दावा

कोरोना: स्पेन में एक दिन में सबसे अधिक 950 मौतें, कुल आंकड़ा 10 हजार के पार

अमेरिका को 3 साल पहले ही मिली थी कोरोना की चेतावनी, ट्रंप ने नहीं की तैयारी

कोरोना: अमेरिका में मरने वालों के लिए कम पड़ गए कफन, ऑर्डर किए 1 लाख बॉडी बैग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 3, 2020, 7:30 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading