होम /न्यूज /दुनिया /

कानून के बाद भी नहीं थम रही पाकिस्तान में महिलाओं की हत्याएं

कानून के बाद भी नहीं थम रही पाकिस्तान में महिलाओं की हत्याएं

पाकिस्तानी महिलाएं ( प्रतीकात्मक तस्वीर) 
(getty image)

पाकिस्तानी महिलाएं ( प्रतीकात्मक तस्वीर) (getty image)

पाकिस्तान की कंदील बलोच की पिछले साल जुलाई में उसके भाई द्वारा हत्या के बाद इससे जुड़े कानूनों की खामियों को दुरुस्त करने की मांग को बल मिला था.

    पाकिस्तान में झूठी शान के नाम पर हत्याओं पर रोक लगाने के लिए लागू किये गये कानून को एक वर्ष हो गया है लेकिन अत्यंत रूढ़िवादी देश में अब भी युवतियों की उनके रिश्तेदारों द्वारा हत्या किये जाने का सिलसिला जारी है.

    पाकिस्तान की कंदील बलोच की पिछले साल जुलाई में उसके भाई द्वारा हत्या के बाद इससे जुड़े कानूनों की खामियों को दुरुस्त करने की मांग को बल मिला था. उसके तीन माह बाद उस बहु-प्रतीक्षित विधेयक को पारित कर दिया गया, जिसकी महिला अधिकार संगठनों ने सराहना की.

    एक साल बाद वकीलों और कार्यकर्ताओं का कहना है कि देश में झूठी शान के नाम पर हत्या का सिलसिला बहुत भयावह प्रतीत हो रहा है.

    पाकिस्तान के मानवाधिकार आयोग के मुताबिक अक्तूबर 2016 से इस साल जून तक ऐसी 280 हत्याएं हुईं. हालांकि ऐसा माना जाता है कि यह आंकड़ा कम करके आंका गया है और अधूरा है.

    औरत फाउंडेशन के लिए काम करने वाली अधिवक्ता बेनजीर जातोई ने कहा, ‘‘कोई बदलाव नहीं हुआ है. वास्तव में कानून पारित किये जाने के बाद पेशावर उच्च न्यायालय एक व्यक्ति को दो बार झूठी शान से जुड़े अपराधों में दोषमुक्त कर चुका है.’

    यह भी पढ़ें-

    पाक में उलेमा ने जारी किया ऑनर किलिंग के खिलाफ फतवा

    पाकिस्तान में दो बहनों की हत्या, 'ऑनर किलिंग' का संदेह

    Tags: Honour killing, Pakistan

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर