लाइव टीवी

दावा! USA में कोरोना से नहीं होंगी लाखों मौतें, राष्ट्रपति ट्रंप बोले- इस अंधेरी गुफा के अंत में रौशनी है...

News18Hindi
Updated: April 8, 2020, 1:49 PM IST
दावा! USA में कोरोना से नहीं होंगी लाखों मौतें, राष्ट्रपति ट्रंप बोले- इस अंधेरी गुफा के अंत में रौशनी है...
ट्रंप दो हफ्ते से ले रहे हैं मलेरिया की दवा, व्हाइट हाउस ने दी जानकारी

व्हाउट हाउस की कोरोना वायरस (Coronavirus) टास्क फ़ोर्स ने ही एक हफ्ते पहले कोरोना संक्रमण से 1 लाख से 2.5 लाख तक मौतें होने का अनुमान जताया था. अभी तक अमेरिका (USA) में इस संक्रमण से करीब 13 हज़ार लोगों की मौत हो चुकी है.

  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका (USA) में कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के चलते मंगलवार को करीब 2 हज़ार लोगों ने अपनी जान गंवा दी. उधर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने दावा किया है कि वैज्ञानिकों ने जितनी मौतों का अंदेशा जताया था वो गलत है और अमेरिका में इस संक्रमण से लाखों मौतें नहीं होंगी. बता दें कि व्हाउट हाउस की कोरोना वायरस टास्क फ़ोर्स ने ही एक हफ्ते पहले कोरोना संक्रमण से एक से ढाई लाख तक मौत होने का अनुमान जताया था. अभी तक अमेरिका में इस संक्रमण से करीब 13 हज़ार लोगों की मौत हो चुकी है.

ट्रंप ने व्हाउट हाउस में पत्रकारों से बातचीत के दौरान दावा किया कि फिलहाल जो नए आंकड़े सामने आए हैं उनके मुताबिक अमेरिका में संक्रमण से लाखों मौतें नहीं होंगी. जितना हमने सोचा था उससे कम मौतें होंगी. मुझे लगता है अब हम सही दिशा में जा रहे हैं, हालांकि अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी ही होगी. इसके अलावा राष्ट्रपति ट्रंप ने रक्षा विभाग के इंस्पेक्टर जनरल ग्लेन फाइन को भी हटा दिया है. फाइन कोरोनावायरस से निपटने के लिए बनी विशेष समिति के प्रमुख थे. इस समिति को 2 लाख करोड़ डॉलर का बजट दिया गया था.

दूसरी तरफ, ट्रंप ने अमेरिका में खराब स्थिति का ठीकरा अब डब्ल्यूएचओ के सिर पर फोड़ा है. ट्रंप ने ट्वीट किया, 'असल में डब्ल्यूएचओ ने हमें निराश किया है. किसी भी वजह से, हम इस संस्था को सबसे अधिक पैसा देते हैं. पर इसका रवैया चीन केंद्रित रहा है. सौभाग्य से मैंने चीन की सीमा को खुला रखने की डब्ल्यूएचओ की सलाह को दरकिनार कर दिया. आखिर उन्होंने इतनी दोषपूर्ण सिफारिश क्यों की? हम इसकी अच्छे से समीक्षा करेंगे.



अमेरिका में मौतों का सिलसिला जारी



बता दें कि कोरोना संक्रमण के मद्देनज़र मंगलवार का दिन अमेरिका के लिए काफी बुरा साबित हुआ और सिर्फ 24 घंटे में कोरोना से संक्रमित 1970 लोगों की मौत हो गयी. इस दौरान संक्रमण के 33 हज़ार से ज्यादा नए केस भी सामने आए. अमेरिका में कोरोना संक्रमण से एक दिन में हुई ये सबसे ज्यादा मौतें हैं. अमेरिका में फिलहाल कुल मौतों का आंकड़ा बढ़कर 12841 पहुंच गया है. अमेरिका में कुल संक्रमितों की संख्या 4 लाख से ज्यादा हो गयी है. न्यूयॉर्क शहर इस संक्रमण से सबसे ज्यादा बुरी तरह से प्रभावित है. यहां बीते 24 घंटे में 731 लोगों की मौत हो गयी है. न्यूयॉर्क के हेल्थ डिपार्टमेंट के मुताबिक कोरोना वायरस के संक्रमण की चपेट में आकर सिर्फ न्यूयॉर्क में कुल 3,202 लोगों की मौत हुई है.

पहले जैसा नहीं रहेगा अमेरिका
अमेरिका में संक्रमण रोग विशेषज्ञ डॉक्टर एंथनी फौसी ने व्हाइट में एक प्रेस ब्रीफिंग के दौरान मंगलवार को कहा कि अमेरिका में आने वाले दिन काफी भयावह रहने वाले हैं. अमेरिका में कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर व्हाइट हाउस में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान टॉप के संक्रमण रोग विशेषज्ञ डॉक्टर एंथनी फौसी से एक रिपोर्टर ने सवाल किया कि अमेरिका में कब तक हालात नॉर्मल हो पाएंगे? इस पर एंथनी ने कहा कि अगर नॉर्मल होने का मतलब ये है कि उस स्थिति में पहुंच जाना, जहां हमें लगे कि कोरोना वायरस एक प्रॉब्लम था ही नहीं, तो मुझे लगता है कि ऐसा वक्त अब नहीं आने वाला है.



 

यह भी पढ़ें:-

कोरोना गुड न्यूज: फ्री ई-बुक्स से लेकर 93 साल के बुजुर्ग के ठीक होने की खबरें

कोरोना से पहले किन 4 मौकों पर रानी एलिजाबेथ ने ब्रिटेन को किया था संबोधित

कोरोना वायरस: आखिर मलेरिया की इस दवा के पीछे क्यों पड़े हैं ट्रंप? जानें वजह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेरिका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 8, 2020, 9:33 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading