• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • अमेरिका में भगवान हनुमान की 25 फीट ऊंची प्रतिमा स्थापित, तेलंगाना में हुई तैयार

अमेरिका में भगवान हनुमान की 25 फीट ऊंची प्रतिमा स्थापित, तेलंगाना में हुई तैयार

अमेरिका में भगवान हनुमान की 25 फीट ऊंची प्रतिमा स्थापित (फाइल फोटो)

अमेरिका में भगवान हनुमान की 25 फीट ऊंची प्रतिमा स्थापित (फाइल फोटो)

अमेरिका (Hanuman) पहुंचने पर इस मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा समारोह में हॉकेंसिन के 300 से ज्यादा हिंदू परिवारों ने हिस्सा लिया. इस दौरान 10 दिनों तक पूजा-पाठ का आयोजन भी किया गया.

  • Share this:
    हॉकेंसिन. अमेरिका (America) के हॉकेंसिन शहर में सबसे ऊंची हनुमान जी (Lord Hanuman) की 25 फीट ऊंची प्रतिमा को स्थापित किया गया है, जिसका वजन 30,000 किलोग्राम है. इस प्रतिमा को भारत में बनाकर अमेरिका भेजा गया था. बताया जा रहा है कि इस मूर्ति की लागत एक लाख डॉलर के आसपास है. सुंदर नक्काशी वाले हनुमान जी की इस प्रतिमा को दक्षिण भारत के एक छोटे शहर वारंगल में काले ग्रेनाइट पत्थर के एक ही टुकड़े से बनाया गया है. साल भर की कड़ी मेहनत के बाद 12 से ज्यादा मूर्तिकारों ने हनुमान जी की इस प्रतिमा को तैयार किया.

    10 दिनों तक पूजा-पाठ का आयोजन
    अमेरिका पहुंचने पर इस मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा समारोह में हॉकेंसिन के 300 से ज्यादा हिंदू परिवारों ने हिस्सा लिया. इस दौरान 10 दिनों तक पूजा-पाठ का आयोजन भी किया गया. इस मूर्ति की स्थापना द हनुमान प्रोजक्ट्स के माध्यम से की गई है, जिसमें अमेरिका के अधिकतर हिंदू समुदाय के लोग शामिल हैं. रिपोर्ट के अनुसार, 25 फीट की इस प्रतिमा को जनवरी में हैदराबाद से शिप के जरिए न्यूयॉर्क के लिए रवाना किया गया. जिसके बाद इस प्रतिमा को एक ट्रक पर रखकर डेलावेयर के सबसे बड़े हिंदू मंदिर तक पहुंचाया गया. बंगलोर से पहुंचे पुजारी नागराज भट्टार ने मूर्ति के शुद्धिकरण के लिए पूजा की. इस प्रतिमा का अनावरण अमेरिकी सीनेटर क्रिस कॉन्स, न्यू कैसल काउंटी के सीईओ मैट मायर और डेलावेयर बेथानी हॉल-लांग के उपराज्यपाल ने किया.

    वारंगल में तैयार हुई प्रतिमा
    सुंदर नक्काशी वाले हनुमान जी की इस प्रतिमा को दक्षिण भारत के एक छोटे शहर वारंगल में काले ग्रेनाइट पत्थर के एक ही टुकड़े से बनाया गया है. साल भर की कड़ी मेहनत के बाद 12 से ज्यादा मूर्तिकारों ने हनुमान जी की इस प्रतिमा को तैयार किया.

    प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल हुए कई अमेरिकी नेता
    रिपोर्ट के अनुसार, 25 फीट की इस प्रतिमा को जनवरी में हैदराबाद से शिप के जरिए न्यूयॉर्क के लिए रवाना किया गया. जिसके बाद इस प्रतिमा को एक ट्रक पर रखकर डेलावेयर के सबसे बड़े हिंदू मंदिर तक पहुंचाया गया. बंगलोर से पहुंचे पुजारी नागराज भट्टार ने मूर्ति के शुद्धिकरण के लिए पूजा की. इस प्रतिमा का अनावरण अमेरिकी सीनेटर क्रिस कॉन्स, न्यू कैसल काउंटी के सीईओ मैट मायर और डेलावेयर बेथानी हॉल-लांग के उपराज्यपाल ने किया.

    ये भी पढ़ें: अमेरिका के सांसद टॉम राइस को हुआ corona, छह अन्य सदस्य भी संक्रमित

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज