Home /News /world /

US Mission in Afghanistan: मेजर जनरल क्रिस डॉनह्यू के प्लेन में चढ़ते ही अफगानिस्तान में खत्म हुआ अमेरिकी मिशन

US Mission in Afghanistan: मेजर जनरल क्रिस डॉनह्यू के प्लेन में चढ़ते ही अफगानिस्तान में खत्म हुआ अमेरिकी मिशन

मेजर जनरल क्रिस डॉनह्यू 1992 में अमेरिकी सेना में शामिल हुए थे. (फोटो: Twitter/DeptofDefense)

मेजर जनरल क्रिस डॉनह्यू 1992 में अमेरिकी सेना में शामिल हुए थे. (फोटो: Twitter/DeptofDefense)

US Withdrawal from Afghanistan: बीते साल 82वीं एयरबोर्न डिवीजन (82nd Airborne Division) के कमांडर बनने से पहले डॉनह्यू कंबाइन्ड जॉइंट स्पेशल ऑपरेशन्स टास्क फोर्स-अफगानिस्तान के कमांडर थे. वे 1992 में अमेरिकी सेना में शामिल हुए थे.

अधिक पढ़ें ...

    वॉशिंगटन. 82वीं एयरबोर्न डिवीजन के कमांडर मेजर जनरल क्रिस डॉनह्यू (Major General Chris Donahue) काबुल छोड़ने वाले आखिरी अमेरिकी सैनिक हैं. कहा जा रहा है कि काबुल एयरपोर्ट पर मौजूद प्लेन पर इनके सवार होने के बाद अमेरिका की अफगानिस्तान से वापसी की प्रक्रिया पूरी हो गई थी. हाल ही में यूएस सेंट्रल कमांड की तरफ से जारी तस्वीर में कमांडर डॉनह्यू प्लेन में चढ़ते हुए नजर आ रहे हैं. इस विमान में अफगानिस्तान में अमेरिका के राजदूत रॉस विल्सन भी मौजूद थे. 11 सितंबर 2001 के आतंकी हमलों के कुछ ही समय बाद अफगानिस्तान में शुरू हुए अमेरिकी मिशन का अंत हो गया है.

    जैसे-जैसे कमांडर डॉनह्यू प्लेन की तरफ आगे बढ़ रहे हैं, उनके पीछे हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा नजर आ रहा है. राजधानी काबुल में स्थित इसी एयरपोर्ट के बाहर 15 अगस्त के बाद से ही उथल-पुथल मची हुई थी. पहले काबुल पर तालिबान के कब्जे के बाद अफगानों का पलायन का दौर शुरू हुआ. इसके बाद अगस्त के अंतिम दिनों में आतंकवादी हमले और अमेरिका जवाबी कार्रवाई के बाद इलाके में तनाव और बढ़ गया था. राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अमेरिकी सैनिकों की वापसी के लिए अंतिम तारीख 31 अगस्त तय की थी.

    यह भी पढ़ें: अमेरिकी सेना के ‘जल्दबाजी’ में अफगान छोड़ने से बढ़ेगी भारत की चिंता! छूटे हथियार पैदा कर सकते हैं मुश्किलें

    कौन हैं मेजर जनरल क्रिस डॉनह्यू
    बीते साल 82वीं एयरबोर्न डिवीजन के कमांडर बनने से पहले डॉनह्यू कंबाइन्ड जॉइंट स्पेशल ऑपरेशन्स टास्क फोर्स-अफगानिस्तान के कमांडर थे. वे 1992 में अमेरिकी सेना में शामिल हुए थे. यूएस आर्मी स्पेशल ऑपरेशन्स कमांड के तहत उन्होंने फोर्ट ब्रैग में कई पदों पर काम किया. वे असिस्टेंट ऑपरेशन्स ऑफिसर, स्क्वाड्रन ऑपरेशन्स ऑफिसर, स्क्वाड्रन एग्जीक्यूटिव ऑफिसर, ट्रूप कमांडर, सिलेक्शन एंड ट्रेनिंग डिटेचमेंट कमांडर, ऑपरेशन्स ऑफिसर, स्क्वाड्रन कमांडर और डिप्टी ब्रिगेड कमांडर रहे.

    हार्वर्ड कॉलेज से निकलने के बाद वे फोर्ट ब्रैग पहुंचे, जहां उन्होंने USASOC के अंदर एक ब्रिगेड की कमान संभाली. डॉनह्यू ने यूएस जॉइंट स्पेशल ऑपरेशन्स कमांड के डायरेक्टर ऑफ ऑपरेशन के तौर पर भी काम किया. XVIII एयरबोर्न कॉर्प्स ने डॉनह्यू की तस्वीर पोस्ट की और लिखा, ‘यह अविश्वसनीय रूप से कठिन और दबाव भरा मिशन था, जिसमें कई जटिलताएं और सक्रिय खतरे थे. हमारे सैनिकों ने धैर्य, अनुशासन और सहानुभूति का प्रदर्शन किया.’

    Tags: Afghanistan, Major General Chris Donahue, Taliban, US Withdrawal

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर