ट्रंप के पूर्व सहयोगी मनाफोर्ट को मिली जेल की सज़ा

ट्रंप के पूर्व सहयोगी मनाफोर्ट को मिली जेल की सज़ा
पॉल मनाफोर्ट की जमानत रद्द करते हुए न्याय में बाधा पहुंचाने का हवाला देकर कोर्ट ने उन्हें जेल भेज दिया.

पॉल मनाफोर्ट की जमानत रद्द करते हुए न्याय में बाधा पहुंचाने का हवाला देकर कोर्ट ने उन्हें जेल भेज दिया.

  • Share this:
अमेरिका के एक फेडेरल जज ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के पूर्व सहयोगी पॉल मनाफोर्ट की जमानत रद्द करते हुए न्याय में बाधा पहुंचाने का हवाला देकर उन्हें जेल भेज दिया. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबकि, जज ने शुक्रवार को स्पेशल प्रॉसीक्यूटर रॉबर्ट मुलर के आरोपों के बाद यह फैसला किया.

मुलर ने कहा था कि मनाफोर्ट और उनके एक सहयोगी ने मामले में गवाहों को प्रभावित करने की कोशिश की. मुलर 2016 में हुए अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनाव में रूस की कथित भूमिका की जांच कर रहे हैं.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, दो गवाहों ने मुलर को बताया कि मनाफोर्ट ने उन्हें गवाही से पीछे हटने को कहा है. प्रॉसीक्यूटर्स ने शुक्रवार को कहा कि यदि मनाफोर्ट को जेल नहीं भेजा गया तो वह इसी तरह गवाहों को प्रभावित कर सकता है.



डोनाल्ड ट्रंप ने अपने आपको इस पूरी घटना से अलग कर लिया है. मनाफोर्ट को जेल की सज़ा मिलने के कुछ घंटे बाद ही ट्रंप ने ट्वीट किया कि वाह मनाफोर्ट के लिए कितनी कड़ी सज़ा है.



मुलर की जांच के तहत मनाफोर्ट ट्रंप की पूर्व प्रचार टीम के पहले अधिकारी हैं, जिन्हें जेल हुई हैं.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज