पाकिस्तान: मौलाना तारिक जमील का बेतुका बयान, कहा- आग और पेट्रोल साथ रहेंगे तो रेप होंगे

मौलाना तारिक जमील (फाइल फोटो)
मौलाना तारिक जमील (फाइल फोटो)

पाकिस्तान में पीएम इमरान खान (PM Imran Khan) के चहेते मौलाना ने महिलाओं के साथ दुष्कर्म का कारण बताया है. दरअसल, पाकिस्तानी मौलाना तारिक जमील (Maulana Tariq Jameel) दुष्कर्म की बढ़ती घटनाओं के लिए लड़के-लड़कियों के साथ में पढ़ाई (को-एजुकेशन) को जिम्मेदार बता रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 19, 2020, 6:51 PM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद. पाकिस्तान में बढ़ती दुष्कर्म की घटनाओं के बाद पीएम इमरान खान (PM Imran Khan) पर सख्त कानून लाने का दबाव बढ़ता जा रहा है. लेकिन इसी बीच पाकिस्तानी मौलाना दुष्कर्म की बढ़ती घटनाओं के लिए लड़के-लड़कियों के साथ में पढ़ाई (को-एजुकेशन) को जिम्मेदार बता रहे हैं. दरअसल, पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के चहेते मौलाना तारिक जमील (Maulana Tariq Jameel) ने भी लड़के-लड़कियों के साथ में पढ़ाई को बलात्कार का असली कारण बताया है. उन्होंने कहा कि अगर आग और पेट्रोल एक साथ रहेंगे तो बलात्कार तो होते रहेंगे. कॉलेजों में लड़के-लड़कियां इकट्ठे पढ़ते हैं. जब पेट्रोल और आग इकट्ठा होगा तो फिर आग न लगे यह कैसे होगा.

बता दें, पाकिस्तान में इमरान खान सरकार से दुष्कर्म के दोषियों को सरेआम फांसी देने की मांग की जा रही है. इस सजा की कई मुस्लिम संगठनों ने भी मांग की है. इस्लामबाद, मुल्तान, लाहौर, कराची सहित कई शहरों में इमरान खान सरकार के खिलाफ लोगों का गुस्सा बढ़ता जा रहा है. वहीं, कई लोगों ने दोषियों को दुसरे इस्लामिक देशों की तरह नपुंसक बनाने की मांग भी की है. वहीं, इमरान खान ने यौन दुव्‍यर्वहार करने वालों का एक नैशनल रजिस्‍टर बनाने का आह्वान किया है. पाकिस्‍तानी पीएम ने एक टीवी चैनल से बातचीत में कहा कि उन्‍हें लगता है कि बलात्‍कारियों के तत्‍काल रासायनिक बंध्‍याकरण करने की जरूरत है. अगर ऐसा न हो तो कम से कम बलात्‍कारियों का ज‍बरन सर्जरी कराया जाए ताकि वे भविष्‍य में दोबारा यौन अपराध न कर सकें.

ये भी पढ़ें: टिकटॉक-वीचैट पर बैन के बाद बौखलाया चीन, अमेरिका को दी चेतावनी



ग्रेडिंग सिस्टम बनाया जाए
इमरान ने कहा कि रेप और यौन अपराधों को लेकर एक ग्रेडिंग सिस्‍टम बनाया जाए. इसमें सबसे घृणित अपराध करने वाले अपराधी को ऐसा बना दिया जाए ताकि वह इसे दोहरा न सके. उन्‍होंने कहा कि यौन अपराध करने वालों को ऐसी सजा दी जाए जो दूसरों के लिए सबक हो. उन्‍होंने बलात्‍कारियों को सरेआम फांसी देने का भी आह्वान किया. इमरान ने कहा कि प्रशासन के लिए यह संभव नहीं है कि वह यह ठीक-ठीक पता लगा सके कि देश में कितने बलात्‍कार होते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज