Home /News /world /

medical students learn from holographic patients first in uk

मेडिकल के छात्र अब होलोग्राफिक मरीजों से सीखेंगे डॉक्टरी के गुर, ब्रिटेन में शुरू हुआ यह प्रशिक्षण, देखें VIDEO

होलोग्राफिक मरीज की ट्विटर से ली गई तस्वीर.

होलोग्राफिक मरीज की ट्विटर से ली गई तस्वीर.

Doctor train from holographic patient: ब्रिटेन के मेडिकल कॉलेज के विद्यार्थियों ने होलोग्राम मरीज की तकनीकी विकसित की है जिसका इस्तेमाल वे डॉक्टरी पेशे को सीखने में करते हैं. होलोग्राम मरीज एकदम वास्तविक लगता है और परंपरागत सिमुलेशन की तकनीकी से ज्यादा कारगर और कम खर्चीली है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. ब्रिटेन में मेडिकल के छात्रों ने अनूठा प्रयोग किया है. दरअसल, मेडिकल के छात्रों को इंसान की बॉडी को समझने के लिए पहले सिमुलेशन यानी नकली या उसी तरह की कृत्रिम बॉडी से सीखना होता है. लेकिन यूनिवर्सिटी ऑफ कैंब्रिज के छात्रों ने होलोग्राफिक मरीज तैयार किया है जो देखने में बिल्कुल वास्तविक मरीज की तरह लगता है. एनडीटीवी की खबर के मुताबिक इस होलोग्राफिक मरीज के साथ इंसान की तरह आभासी इलाज किया जा सकता है. इस तरह की तकनीक से मेडिकल के छात्र इंसानी शरीर को बेहतर ढंग से समझ भी सकते हैं और उसका बेहतर ढंग से इलाज की बारीकियों के बारे में भी जान सकते हैं.

लगता है जैसे होलोग्राम में वास्तविक जीवन है
यह कारनामा यूनिवर्सिटी ऑफ कैंब्रिज में एडेनब्रूक अस्पताल के छात्रों ने किया है. इसे होलो सिनोरियो (HoloScenarios) नाम दिया है. सबसे खास बात यह है कि इस होलोग्राम में ऐसा लगता है कि वास्तविक जीवन है और उससे भी दिलचस्प बात यह है कि इसे कहीं से भी इस्तेमाल किया जा सकता है. यानी अगर होलोग्राम की तकनीक दिल्ली में लगी है और बिहार के मेडिकल कॉलेज का छात्र इस होलोग्राम मरीज को देखकर सीखना चाहता है तो तकनीकी की मदद से ऐसा किया जा सकता है. इस तकनीकी को कैंब्रिज यूनिवर्सिटी एनएचएस फाउंडेशन ट्रस्ट, यूनिवर्सिटी ऑफ कैंब्रिज और लॉस एंजिल्स स्थित गिगएक्सआर ने विकसित की है.

सिमुलेशन से कम खर्चे वाली तकनीकी
इंडिपेंडेंट न्यूज के मुताबिक इसे विकसित करने वालों को भरोसा है कि यह तकनीकी ज्यादा असरदार और कम लागत वाली होगी और यह सिमुलेशन के माध्यम से सीखने के परंपरागत तरीके की जगह ले लेगा. इसके लिए लैब में ज्यादा देखभाल की भी जरूरत नहीं पड़ेगी. इस तकनीकी पर काम करने वाले सीयूएच में सलाहकार एनेस्थेटिस्ट और परियोजना के प्रमुख डॉ अरुण गुप्ता ने बताया कि इस प्लेटफॉर्म के माध्यम से सिमुलेशन की प्रक्रिया को आसानी से समझा जा सकता है और इसकी मांग भी बढ़ती जा रही है.

Tags: Britain, Medical Students, Students, UK

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर