मेहुल चोकसी ने गलत जानकारी देकर ली थी एंटीगा की नागरिकता, रद्द करने की कवायद जारी- सूचना मंत्री

डोमिनिका के रोसीयू में मजिस्ट्रेट कोर्ट से व्हीलचेयर पर बाहर आता भारतीय भगोड़ा हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी. (AP/4 June, 2021)

मेलफोर्ड ने कहा, नागरिकता (Citizenship) लेने के लिए गलत जानकारी देना बड़ा अपराध है और हम इस पर कार्रवाई करते हुए उसकी नागरिकता रद्द करने की प्रक्रिया पहले ही शुरू कर चुके हैं लेकिन मेहुल चोकसी (Mehul Choksi) ने अदालत का दरवाजा खटखटाया है.

  • Share this:
    सेंट जोंस. PNB घोटाले (PNB Scam) में भगोड़ा हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी (Mehul Choksi) की दिक्‍कत बढ़ती दिखाई पड़ रही है. दरअसल एंटीगा के सूचना मंत्री मेलफोर्ड निकोलस ने कहा है कि मेहुल चोकसी ने एंटीगा (Antigua) की नागरिकता लेने के लिए गलत जानकारी दी थी. मेलफोर्ड ने कहा, नागरिकता (Citizenship) लेने के लिए गलत जानकारी देना बड़ा अपराध है और हम इस पर कार्रवाई करते हुए उसकी नागरिकता रद्द करने की प्रक्रिया पहले ही शुरू कर चुके हैं, लेकिन मेहुल ने अदालत का दरवाजा खटखटाया है. बता दें कि मेहुल चोकसी इस समय डोमिनिका में अवैध प्रवेश करने के मामले में हिरासत में है.

    मेलफोर्ड की ओर से जानकारी दी गई कि चोकसी ने नागरिकता के लिए जब आवेदन किया था उस वक्‍त उसका नाम ऐसे किसी भी एजेंसी के सामने नहीं आया जो ये बता सके कि उसके खिलाफ कोई आरोप है या नहीं. उन्‍होंने बताया कि इस बात की जानकारी जैसे ही सरकार को लगी उन्‍होंने मेहुल चोकसी को नोटिस दिया. इसके बाद जब उसकी सदस्‍यता रद्द करने की प्रक्रिया शुरू की गई तो उसने अदालत में उसे चुनौती दे दी.

    डोमिनिका के अवैध तरीके से प्रवेश करने के मामले में हिरासत में लिए गए मेहुल चोकसी को लेकर डोमिनिका के प्रधानमंत्री रोसवेल्ट स्केरिट ने बड़ा बयान दिया है और उसे भारतीय नागरिक बताया है. इसके साथ ही उन्‍होंने कहा कि अदालतें जल्द ही उसके भविष्य पर फैसला करेंगी.

    इसे भी पढ़ें :- जानें कैसे समुद्री रास्ते से एंटीगा से डोमनिका पहुंचा था भगोड़ा कारोबारी मेहुल चोकसी

    चोकसी के अधिकारों का सम्‍मान किया जाएगा : स्केरिट
    डोमिनिका के प्रधानमंत्री रूजवेल्ट स्केरिट एक बयान जारी कर कहा है कि चोकसी के अधिकारों का सम्मान किया जाएगा और कोर्ट भगोड़े कारोबारी के खिलाफ अगली कार्रवाई के बारे में फैसला लेगा. स्केरिट ने अपने बयान में कहा, "उसके अधिकारों का सम्मान किया जाएगा और मामले में कोर्ट फैसला करेगी कि आगे क्या होगा." उन्होंने कहा कि चोकसी के मामले में किसी भी तरह की कोई बाधा नहीं है, ये मामला भारत और एंटीगा का है.

    इसे भी पढ़ें :- काला कुर्ता पहने दो लोगों ने मेहुल चोकसी को पहुंचाया डोमिनिका, 2 नावों का हुआ था इस्तेमाल- रिपोर्ट

    चोकसी ने कथित महिला मित्र पर लगाए आरोप
    अपनी शिकायत में चोकसी ने कहा, "पिछले एक साल से बारबरा जबरीका के साथ मेरे दोस्ताना संबंध थे. 23 मई को उसने मुझे अपने घर बुलाया. जब मैं वहां गया तो 8 से 10 लोग उसके घर से निकले और मेरे साथ बुरी तरह मारपीट की." भगोड़े कारोबारी ने कहा कि जब मेरे साथ मारपीट की जा रही थी तो जबरीका ने एक बार भी पिटाई करने वालों को रोका नहीं और ना ही मदद के लिए किसी को बुलाया. जिस तरह से जबरीका ने मेरे साथ व्यवहार किया, उससे साफ है कि वह भी मुझे किडनैप करने की साजिश का अहम हिस्सा थी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.