मेहुल चोकसी जानता था कि एंटीगा के PM उसे भारत भेज देंगे, इसलिए गढ़ी अपहरण की कहानी

मेहुल चो‍कसी की भागने में मदद करने में इसी व्‍यक्ति का हाथ माना जा रहा है. (Pic- CNN News18)

Mehul Choksi Case: सीएनएन-न्यूज18 ने मेहुल चोकसी की उसके एजेंट के साथ तस्वीरें हासिल की हैं. इसी एजेंट ने उसकी एंटीगा और बारबुडा से भागने में कथित तौर पर मदद की थी.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. पंजाब नेशनल बैंक (PNB Scam) के साथ 13 हजार करोड़ रुपये से अधिक के धोखाधड़ी मामले में फरार कारोबारी मेहुल चोकसी (Mehul Choksi) इस समय डोमिनिका (Dominica) में पुलिस की गिरफ्त में है. उसे एंटीगा (Antigua) से डोमिनिका में अवैध रूप से घुसने के आरोप में पकड़ा गया है. भारतीय एजेंसियां उसे भारत लाने के प्रयास में जुटी हैं. इस बीच एक चौंकाने वाले खुलासे में सीएनएन-न्यूज18 ने मेहुल चोकसी की उसके एजेंट के साथ तस्वीरें हासिल की हैं. इसी एजेंट ने उसकी एंटीगा और बारबुडा से भागने में कथित तौर पर मदद की थी. एंटीगा पुलिस सूत्रों ने सीएनएन-न्यूज18 को बताया कि उस एजेंट की पहचान करने के प्रयास जारी हैं.

प्रारंभिक जांच के अनुसार वह व्यक्ति चोकसी को समुद्री मार्ग से क्यूबा ले जाने का प्रयास कर रहा था, लेकिन डोमिनिका में पकड़े जाने के बाद यह योजना विफल हो गई. एंटीगा में चोकसी के करीबी दोस्त गोविन ने एंटीगा छोड़ने और क्यूबा में एक सुरक्षित घर में रहने की उसकी योजना का पर्दाफाश किया है. पुलिस सूत्रों ने बताया कि गोविन ने खुलासा किया है कि चोकसी के पास एंटीगुआ और बारबुडा के अलावा एक कैरिबियाई देश की नागरिकता भी है.

भारतीय खुफिया सूत्रों ने सीएनएन-न्यूज18 को जानकारी दी है कि मेहुल चोकसी जानता था कि उसे एंटीगा के प्रधानमंत्री गेस्‍टन ब्राउन भारत जरूर भेज देंगे. इसलिए उसने अपने अपहरण की योजना बनाई. उनके अनुसार चूंकि चोकसी के खिलाफ इंटरपोल भी पहले रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर चुका है, ऐसे में वह आधिकारिक तौर पर विदेश यात्रा नहीं कर सकता था. ऐसे में उसने खुद के गायब होने की कहानी बनाई.

बता दें कि मेहुल चोकसी और नीरव मोदी जनवरी 2018 के पहले हफ्ते में भारत से फरार हो गए थे. इसके बाद पंजाब नेशनल बैंक में हजारों करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का पर्दाफाश हुआ था.

मेहुल चोकसी 23 मई को एंटीगा और बारबुडा से गायब हो गया था. वह वहां 2018 में भारत से फरार होने के बाद से नागरिकता पाकर रह रहा था. इसके बाद उसे एंटीगा के पड़ोसी देश डोमिनिका में अवैध रूप से घुसने के आरोप में हिरासत में लिया गया है. उसके वकील ने दावा किया है कि उसे एंटीगा के जॉली हार्बर से पुलिकर्मी द्वारा अपहरण किया गया और नाव के जरिये डोमिनिका लाया गया. यह पुलिसवाला एंटीगा और भारतीय जैसा दिखता था.

भारत के शीर्ष खुफिया सूत्रों ने सीएनएन-न्‍यूज18 को बताया कि चोकसी ने अपने अपहरण की कहानी गढ़ी थी और जांच के बाद मामले की सभी जानकारी सार्वजनिक की जाएगी.

एंटीगा सरकार के सूत्रों के अनुसार भारत की मीडिया रिपोर्ट चोकसी के परिवार और वकीलों का नजरिया हैं. उन्होंने कहा कि रिपोर्ट में दिखाई जा रही जानकारी की कोई प्रामाणिकता नहीं है और इस मामले की जांच जारी है.

विभिन्न मीडिया रिपोर्ट ने दावा किया है कि डोमिनिका में उसके प्रवेश से जुड़े ऑपरेशन में दो नावों का इस्तेमाल किया गया हो सकता है. हालांकि, एंटीगा सरकार के सूत्रों ने कहा कि रिपोर्ट की अभी भी जांच की जा रही है, क्योंकि चोकसी के लापता होने का समय और नावों के जाने का समय मेल नहीं खा रहा था.