मिशेल ओबामा  ने डोनाल्ड ट्रंप को बताया अमेरिका का 'गलत राष्ट्रपति'

अमेरिका की पूर्व प्रथम महिला मिशेल ओबामा.

अमेरिका की पूर्व प्रथम महिला मिशेल ओबामा.

मिशेल ओबामा (Michelle Obama) ने डेमोक्रैटिक पार्टी के वर्चुअल सम्मलेन में दिए अपने भाषण में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) को एक गलत राष्ट्रपति बताया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 18, 2020, 4:56 PM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा (Barak Obama) की पत्नी और देश की प्रथम महिला रह चुकीं मिशेल ओबामा (Michelle Obama) ने डेमोक्रैटिक पार्टी के वर्चुअल सम्मलेन में दिए अपने भाषण में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) को एक गलत राष्ट्रपति बताया. मिशेल ने लगभग 20 मिनट का भाषण दिया. कोरोनो काल में डेमोक्रैटिक पार्टी द्वारा आयोजित एक वर्चुअल सम्मेलन में यह एक अनोखा प्रयोग था जो अमेरिकी चुनावों के इतिहास में पहली बार आयोजित किया गया था.

'डोनाल्ड ट्रंप के पास खुद को साबित करने का था समय'

इस सम्मलेन के पहले दिन सोमवार को राष्ट्रपति पद के लिए डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन के लिए मिशेल ओबामा ने आखिर में और सबसे लंबा भाषण दिया. इस जोशीले भाषण में उन्होंने कहा कि मुझे जितना संभव हो उतना ईमानदार और स्पष्ट होने दें. उन्होंने ट्रम्प पर कटाक्ष करते हुए कहा कि डोनाल्ड ट्रम्प हमारे देश के लिए गलत राष्ट्रपति हैं. डोनाल्ड ट्रंप के पास खुद को साबित करने के लिए पर्याप्त समय था लेकिन उन्होंने अपने आप को वह सिद्ध नहीं किया जो अमेरिकी जनता से उम्मीद बांधे बैठी थी.



कोरोना वायरस के चलते 1.7 लाख लोगों की मौत
मिशेल ओबामा ने लोगों को चुनावों में मतदान करने के लिए रजिस्ट्रेशन करने के लिए प्रेरित करते हुए 3 नवंबर के चुनाव में मतदान के महत्व के बारे में बात की. उन्होंने 1,70,000 अमेरिकियों को मार दिया है और 5 मिलियन से अधिक लोगों को संक्रमित किया है. उन्होंने कहा कि ट्रम्प 2016 में लोकप्रिय वोट खोने के बाद भी चुनाव जीत गए और उसका परिणाम हम सभी भुगत रहे हैं.

जो बाइडेन भी नहीं हैं परिपूर्ण: मिशेल

उन्होंने कहा कि जो बिडेन पर बात रखते हुए कहा कि वे भी परिपूर्ण नहीं है लेकिन वे जानते हैं कि एक अर्थव्यवस्था को बचाने के लिए और कोरोना महामारी को हराकर हमारे देश का नेतृत्व करने के लिए क्या करना है. उन्होंने कहा कि अगर हमें इस अराजकता को समाप्त करने की कोई उम्मीद है तो हमें जो बिडेन को वोट देना है, क्योंकि अब हमारा जीवन इसी पर निर्भर है.

इस सम्मेलन में अमेरिकी डाक सेवा का जिक्र भी हुआ

इस सम्मलेन में अमेरिकी डाक सेवा की मेल डिलवरी में देर पर भी बहस हुई. अमेरिका में कोरोना महामारी के कारण कुछ राज्यों ने मतदान-दर-मेल विकल्पों के विस्तार के प्रयासों पर बात की थी जिसे ट्रम्प ने नकार दिया था. मिशेल ओबामा ने इस पर भी ट्रम्प की आलोचना की. यह मुद्दा सोमवार रात के सम्मेलन के दौरान एक महत्वपूर्ण विषय बना रहा जिसमें कई वक्ताओं ने डाक सेवा की वर्तमान स्थिति पर चिंता व्यक्त की और दर्शकों को जल्दी वोट करने के लिए प्रोत्साहित किया.

ये भी पढ़ें: अमेरिका की चुनावी सभाओं में पढ़े जा रहे हैं वेद और महाभारत के श्लोक 

US: चुनावी सभा में महिला ने कहा- डोनाल्ड ट्रंप पर भरोसे के चलते मेरे पिता की जान गई

पर्यवेक्षकों ने नोट किया कि मिशेल ओबामा ने अपने भाषण में उपराष्ट्रपति के लिए पहली अश्वेत और भारतीय मूल की उम्मीदवार कमला हैरिस का जिक्र नहीं किया. इसका कारण यह है कि अधिवेशन की आभासी प्रकृति को ध्यान में रखते हुए पिछले मंगलवार को बिडेन की घोषणा से पहले ओबामा की के भाषण को रिकॉर्ड किया गया था कि उन्होंने कैलिफोर्निया के सेन कमला हैरिस को अपने साथी के रूप में चुना था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज