अपना शहर चुनें

States

ट्रंप को झटका! जॉर्जिया, पेनसेल्वेनिया के बाद मिशिगन में भी बाइडन विजयी घोषित

मिशीगन में भी बाइडन की जीत पर मुहर.
मिशीगन में भी बाइडन की जीत पर मुहर.

US Election Result: जॉर्जिया, पेनसेल्वेनिया, अरिजोना में मुक़दमे खारिज होने के बाद मिशीगन रीकाउंट से भी अमेरिका के निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को बड़ा झटका लगा है. यहां भी बाइडन ने 1,54,000 मतों से जीत हासिल की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 24, 2020, 1:48 PM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. मिशिगन (Michigan) के चुनाव अधिकारियों ने राज्य में जो बाइडन (Joe Biden) की जीत की घोषणा कर दी है. जॉर्जिया, अरिजोना, पेनसेल्वेनिया के बाद मिशीगन भी निवर्तमान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के लिए बड़ा झटका है. बाइडन राज्य में 1,54,000 मतों से विजयी घोषित किये गये हैं. हालांकि इसी के आसार नज़र आने के बाद आखिरकार ट्रंप ने व्हाइट हाउस की टीम को सत्ता हस्तांतरण के लिए हरी झंडी दे दी है.

बाइडन की इस विजय से राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को तगड़ा झटका लगा है जो निर्वाचन प्रक्रिया में धांधली का आरोप लगाते रहे हैं. बोर्ड ऑफ स्टेट कैनवासर्स ने तीन-शून्य से बाइडन को मिली विजय की पुष्टि की। इस बोर्ड में दो रिपब्लिकन एवं दो डेमोक्रेट हैं. ट्रंप के सहयोगी एवं चुनाव में पराजित होने वाले सीनेट उम्मीदवार जॉन जेम्स ने निर्णायक मंडल से मतदान की प्रक्रिया दो सप्ताह के लिए टालने का आग्रह किया था. मिशिगन के गवर्नर ग्रेचेन व्हिटमर ने एक वक्तव्य जारी कर कहा, 'मिशिगन के लोगों ने जनादेश दे दिया है. नव निर्वाचित राष्ट्रपति बाइडन ने मिशिगन राज्य में 1,54,000 मतों से विजय हासिल की है और वह 20 जनवरी को हमारे अगले राष्ट्रपति होंगे.'

बाइडन ने जैनेट येलेन को चुना वित्त मंत्री
बाइडन ने फेडरल रिजर्व की पूर्व अध्यक्ष जैनेट येलेन को वित्त मंत्री पद के लिए चुना है. सत्ता हस्तांतरण की योजना के जानकार एक व्यक्ति के मुताबिक अब येलेन बाइडन की आर्थिक नीतियों को आकार और दिशा देने में निर्णायक भूमिका निभाएंगी. येलेन वित्त जगत की एक प्रतिष्ठित शख्सियत हैं. वित्त विभाग की कमान संभालने वाली वह प्रथम महिला होंगी. बाइडन की योजना से परिचित एक व्यक्ति ने येलेन के नामांकन की पुष्टि की है. इससे पहले भी परिपाटी को तोड़ते हुए येलेन फेडरल रिजर्व की पहली महिला अध्यक्ष बनी थीं. उन्होंने अमेरिका के सबसे बड़े बैंक की कमान 2014 से 2018 तक संभाली थी. बाद में वह बाइडन के प्रचार अभियान की सलाहकार बनीं. येलेन बाइडन की अहम सलाहकार तथा उनके आर्थिक एजेंडे की प्रवक्ता भी होंगी. पदभार संभालने के बाद उन्हें महामारी के कारण कमजोर पड़ी अर्थव्यवस्था की चुनौती का सामना भी करना पड़ेगा.
बाइडन ने राष्ट्रीय सुरक्षा दल की घोषणा की


बाइडन ने सोमवार को अपने राष्ट्रीय सुरक्षा दल की घोषणा की, जिसमें तीन महिलाएं शामिल हैं और ऐसा पहली बार है जब जलवायु के लिए विशेष दूत को राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद का हिस्सा बनाया जाएगा. बाइडन चाहते हैं कि एंटनी ब्लिंकेन को विदेश मंत्री, एलेजांद्रो मायोरकस को गृह मंत्री, लिंडा थॉमस-ग्रीनफील्ड को संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत और अरविल हैन्स को राष्ट्रीय खुफिया निदेशक नियुक्त किया जाए. हैन्स इस पद के लिए नामित होने वाली पहली महिला होंगी. बाइडन ने पूर्व विदेश मंत्री जॉन केरी को जलवायु के लिए राष्ट्रपति के विशेष दूत के पद के लिए नामित करने की घोषणा की. केरी राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद में इस पद पर बैठने वाले पहले अधिकारी होंगे. जेक सुलिवन को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार नामित किया गया है.

ट्रंप ने पेनसिल्वेनिया के खिलाफ अपील की
उधर ट्रंप ने पेनसिल्वेनिया में चुनाव परिणाम को चुनौती देने के उनके अभियान के प्रयास को एक संघीय न्यायाधीश द्वारा खारिज करने के फैसले के खिलाफ अपील दायर की है. अमेरिका में एक संघीय न्यायाधीश ने ट्रंप के अभियान की ओर से पेनसिल्वेनिया में दायर उस मुकदमे को खारिज कर दिया था, जिसमें लाखों मतों को अवैध घोषित करने की मांग की गई थी.

यूएस मिडल डिस्ट्रिक्ट ऑफ पेनसिल्वेनिया के न्यायाधीश मैथ्यू ब्राउन ने ट्रंप अभियान का अनुरोध शनिवार को खारिज कर दिया, जिससे तीन नवंबर को हुए चुनाव के परिणामों को चुनौती देने के राष्ट्रपति ट्रंप के प्रयासों को खासा झटका लगा. अब राष्ट्रपति तथा अन्य वादियों ने थर्ड यूएस सर्किट कोर्ट ऑफ अपील्स में रविवार को अपीली नोटिस दिया, जो नव-निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन को पदभार संभालने से रोकने का एक और प्रयास है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज