होम /न्यूज /दुनिया /ओमिक्रॉन के बीच अबू धाबी जाने का है प्लान? जरूर जान लें ट्रैवल के ये नए नियम

ओमिक्रॉन के बीच अबू धाबी जाने का है प्लान? जरूर जान लें ट्रैवल के ये नए नियम

अबू धाबी के अधिकारी रविवार से ईडीई स्कैनर का उपयोग राजधानी के सभी एंट्री पॉइंट्स पर कोविड-19 संक्रमण को जांचने के लिए करेंगे. (AP)

अबू धाबी के अधिकारी रविवार से ईडीई स्कैनर का उपयोग राजधानी के सभी एंट्री पॉइंट्स पर कोविड-19 संक्रमण को जांचने के लिए करेंगे. (AP)

Covid Travel Guidelines in UAE: अबू धाबी में पिछले दो दिनों से कोरोना वायरस के नए मामले 100 से ऊपर दर्ज किए जा रहे हैं. ...अधिक पढ़ें

    दुबई. कोरोना वायरस (Coronavirus cases in the World) का नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron Variant) तेजी से दुनिया में फैल रहा है. इस बीच अबू धाबी ने संयुक्त अरब अमीरात (UAE) के अंदर से आने वाले लोगों के लिए नए नियम जारी किए हैं. इसमें बताया गया है कि यूएई के दूसरे अमीरातों से अबू धाबी आने वाले लोगों के लिए फेशियल कोविड -19 स्कैनर (Facial Covid Scanner) का इस्तेमाल करेगा. यह आदेश अबू धाबी के सभी एंट्री पॉइंट्स पर 19 दिसंबर से लागू हो जाएगा. यूएई पूरी दुनिया में तेजी से बढ़ते ओमिक्रॉन के खतरों से डरा हुआ है.

    अबू धाबी में दो दिनों से कोरोना के मामले 100 के पार
    खलीज टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक अबू धाबी में पिछले दो दिनों से कोरोना वायरस के नए मामले 100 से ऊपर दर्ज किए जा रहे हैं. जिसके कारण आपातकाल, संकट और आपदा समिति ने एहतियातन यह फैसला किया है. बुधवार को अबू धाबी के स्वास्थ्य और रोकथाम मंत्रालय ने 340100 पीसीआर टेस्ट किया था. इसमें 148 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए.

    अब बिना दर्द के लगवा सकेंगे वैक्सीन, UK में हो रहा सुई मुक्त टीके का ट्रायल

    रविवार से अबू धाबी से सभी एंट्री पॉइंट्स पर होंगे इस्तेमाल
    अबू धाबी के अधिकारी रविवार से ईडीई स्कैनर का उपयोग राजधानी के सभी एंट्री पॉइंट्स पर कोविड-19 संक्रमण को जांचने के लिए करेंगे. यह आदेश सिर्फ उन्हीं लोगों पर लागू होगा, जो यूएई के अंदर स्थित दूसरे अमीरातों से अबू धाबी में प्रवेश कर रहे होंगे. ईडीई स्कैनर को अबू धाबी के ईडीई रिसर्च इंस्टीट्यूट ने विकसित किया है. इससे कम समय में बड़ी संख्या में लोगों के अंदर कोरोना वायरस को डिटेक्ट किया जा सकता है.

    स्कैनिंग सिस्टम से कोरोना संक्रमित को पकड़ने का दावा
    इंस्टीट्यूट का दावा है कि इस स्कैनिंग सिस्टम तकनीक से विद्युत चुम्बकीय तरंगों को मापकर संभावित कोविड -19 संक्रमण का पता लगाया जा सकता है. ये तरंगे किसी व्यक्ति के शरीर में कोरोना वायरस के आरएनए कणों की उपस्थिति के बारे में सिस्टम को तुरंत बता सकती हैं. ऐसे स्थिति में घंटों तक कोरोना वायरस के टेस्ट के लिए लाइन नहीं लगानी पड़ेगी.

    ब्रिटेन में कोरोना का ब्लास्ट, 24 घंटे में मिले 88376 केस, बूस्टर डोज लेने की होड़

    संभावित पॉजिटिव लोगों का एंटीजन टेस्ट किया जाएगा
    अबू धाबी की सरकारी समिति ने यह भी स्पष्ट किया कि स्कैनिंग तकनीक कोई व्यक्तिगत जानकारी संग्रहीत नहीं करती है. उन्होंने बताया कि सभी संभावित पॉजिटिव कोविड मामलों को एक साइट पर टेस्ट के लिए भेजा जाएगा. वहां इन लोगों का निशुल्क एंटीजन टेस्ट किया जाएगा. इन लोगों को कोरोना वायरस टेस्ट के रिजल्ट 20 मिनट के अंदर दे दिए जाएंगे.

    स्कैनर का जून से ही इस्तेमाल कर रहा यूएई
    अबू धाबी के शॉपिंग मॉल में मोबाइल फोन स्कैनर्स का सफलतापूर्वक ट्रायल भी किया जा चुका है. सफल पायलट प्रॉजेक्ट के बाद इस सिस्टम को 28 जून को यूएई के सभी जमीनी और हवाई एंट्री पाइंट्स पर तैनात किया गया था. यूएई के स्वास्थ्य अधिकारियों ने यह भी दावा किया था कि इस स्कैनर से कोरोना के डेल्टा वेरियंट को भी पहचाना जा सकता है. (एजेंसी इनपुट के साथ)

    Tags: Coronavirus Case, Covid vaccine, Omicron

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें