लाइव टीवी

US-ईरान में तनातनी के बीच अपने सैनिकों को बगदाद से वापस बुलाएगा जर्मनी

News18Hindi
Updated: January 7, 2020, 5:12 PM IST
US-ईरान में तनातनी के बीच अपने सैनिकों को बगदाद से वापस बुलाएगा जर्मनी
जर्मनी एंटी-आईएस मिशन के तौर पर तैनात कुछ सैनिकों को वतन वापस बुलाएगा. photo. PTI

जनरल कासिम सुलेमानी (General Qassem Soleimani) की अमेरिकी एयर स्ट्राइक में मारे जाने के बाद अमेरिका-ईरान युद्ध के मुहाने पर खड़े हैं. ऐसे में जर्मनी एंटी-आईएस मिशन के तौर पर तैनात कुछ सैनिकों को वतन वापस बुलाएगा, जबकि कुछ सैनिक अगले आदेश तक बगदाद में ही तैनात रहेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 7, 2020, 5:12 PM IST
  • Share this:
बर्लिन. ईरान के जनरल कासिम सुलेमानी (General Qassem Soleimani) की अमेरिकी एयर स्ट्राइक में मारे जाने के बाद अमेरिका-ईरान युद्ध के मुहाने पर खड़े हैं. ईरान की तरफ से 'कड़ा इंतकाम' लेने का प्रण लिया गया है, तो अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने भी कह दिया है 'कुछ किया तो तबाह कर देंगे.' इस पूरे संघर्ष के बीच कुछ देश ईरान को समझाने में जुटे हैं. वहीं, जर्मनी ने इराक के बगदाद से अपनी कुछ सैनिकों को वापस बुलाने का फैसला लिया है.

जर्मनी के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने न्यूज़ एजेंसी AFP को बताया कि जर्मनी एंटी-आईएस मिशन के तौर पर तैनात कुछ सैनिकों को वतन वापस बुलाएगा, जबकि कुछ सैनिक अगले आदेश तक बगदाद में ही तैनात रहेंगे. प्रवक्ता के मुताबिक, बगदाद और ताजी में तैनात करीब 30 सैनिकों को जॉर्डन और कुवैत में शिफ्ट होने के लिए कहा गया है.

जर्मनी ने एंटी-आईएस मिशन के तहत करीब 415 सैनिक तैनात किए थे
बता दें कि जर्मनी ने एंटी-आईएस मिशन के तहत करीब 415 सैनिक तैनात किए थे. इनमें से करीब 120 सैनिक बगदाद और ताजी में तैनात हैं. इराक की संसद में अमेरिका के नेतृत्व वाले समूहों से रिश्ते खत्म करने का प्रस्ताव पास होने के बाद जर्मनी ने सैनिकों को वापस बुलाने का फैसला लिया.

इसके पहले जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल, फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों और ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन ने रविवार को संयुक्त रूप से ईरान से अपील की थी कि वह 2015 परमाणु समझौते का उल्लंघन ना करे. तेहरान के संवर्धन की सीमा का पालन ना करने की घोषणा करने के बाद इन देशों के प्रमुख नेताओं ने यह अपील की. तीनों नेताओं ने एक संयुक्त बयान में कहा, 'हम ईरान से उन सभी कदमों को वापस लेने की अपील करते हैं जो परमाणु समझौते के अनुरूप नहीं है.' हालांकि, ईरान ने ये अपील मानने से इनकार कर दिया है.

यह भी पढ़ें...सुलेमानी की अंतिम यात्रा में उमड़े लाखों लोग, भगदड़ मचने से 35 लोगों की मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मध्य पूर्व से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 7, 2020, 5:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर