होम /न्यूज /दुनिया /ईरान: इजरायली खुफिया एजेंसी मोसाद के लिए जासूसी करने पर 4 लोगों को फांसी पर लटकाया गया

ईरान: इजरायली खुफिया एजेंसी मोसाद के लिए जासूसी करने पर 4 लोगों को फांसी पर लटकाया गया

ईरान ने इजरायल के लिए काम करने वाले 4 लोगों को फांसी पर चढ़ाया.  (सांकेतिक तस्वीर)

ईरान ने इजरायल के लिए काम करने वाले 4 लोगों को फांसी पर चढ़ाया. (सांकेतिक तस्वीर)

Iran: इजरायल की खुफिया सेवा मोसाद के लिए काम करने के आरोप में ईरान ने 4 लोगों को फांसी की सजा दी है.

  • ए पी
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

ईरान ने इजरायल की खुफिया एजेंसी के लिए काम करने के आरोप में 4 लोगों को फांसी दी.
देश के रिवोल्यूशनरी गार्ड ने इजरायली एजेंसी से जुड़े लोगों की गिरफ्तारी की जानकारी दी थी.
ये सभी दूसरे लोगों को अगवा कर उनसे पूछताछ करके जानकारी हासिल करते थे.

तेहरान. ईरान की सरकार ने इजरायल की खुफिया एजेंसी मोसाद के लिए काम करने के आरोप में 4 लोगों को रविवार को फांसी दे दी है. सरकारी समाचार एजेंसी ‘इरना’ ने बताया कि देश के रिवोल्यूशनरी गार्ड ने इजरायली खुफिया एजेंसी मोसाद से जुड़े लोगों की गिरफ्तारी की जानकारी दी थी. उसने कहा कि ये लोग निजी और सरकारी जानकारी की चोरी करते थे तथा व्यक्तियों को अगवा कर उनसे पूछताछ करके जानकारी हासिल करते थे.

सरकारी समाचार एजेंसी की एक खबर में कहा गया है कि इन कथित जासूसों के पास हथियार मौजूद थे और उन्हें ‘क्रिप्टोकरेंसी’ के रूप में मोसाद से मेहनताना मिलता था. ईरान और इजरायल कट्टर दुश्मन हैं. इरना ने बताया कि जिन्हें फांसी दी गई है, उनमें हुसैन ओरदोखानज़ादा, शाहीन इमानी मोहमुदाबादी, मिलाद अशरफी और मनौचेहर शाहबंदी शामिल हैं. ईरान के सर्वोच्च न्यायालय ने यहूदी सरकार की खुफिया सेवाओं के साथ सहयोग करने और अपहरण के अपराध के लिए 4 लोगों को मौत की सजा सुनाई थी. जबकि राष्ट्रीय सुरक्षा के हितों के खिलाफ काम करने, अपहरण में मदद करने और अवैध हथियार रखने के लिए तीन अन्य लोगों को पांच से 10 साल के बीच की जेल की सजा सुनाई गई थी.

Iran Hijab Protest: जेल में महिला से कई बार हुआ रेप, रिहा होते ही कर लिया सुसाइड- रिपोर्ट

देश में मौजूदा अशांति से पहले खुफिया मंत्रालय और रिवॉल्यूशनरी गार्ड्स की साझा कार्रवाई के बाद इन सभी को जून में गिरफ्तार किया गया था. इस्लामिक गणराज्य ईरान लंबे समय से अपने कट्टर दुश्मन इजरायल पर अपनी धरती पर गुप्त अभियान चलाने का आरोप लगाता रहा है. तेहरान ने हाल ही में इजरायल और पश्चिमी खुफिया सेवाओं पर ईरान में गृह युद्ध की साजिश रचने का आरोप लगाया है. ईरान इस समय 1979 की इस्लामी क्रांति के बाद से कुछ सबसे बड़े सरकार विरोधी प्रदर्शनों की चपेट में है.

Tags: Iran, Iran hijab protest, Iran news, Israel

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें