Home /News /world /

इस छोटे से देश ने चीन को दी वॉर्निंग-छेड़ने की कोशिश न करें, वरना छोड़ेंगे नहीं

इस छोटे से देश ने चीन को दी वॉर्निंग-छेड़ने की कोशिश न करें, वरना छोड़ेंगे नहीं

 ताइवान के विदेश मंत्री जोसेफ वू (AP)

ताइवान के विदेश मंत्री जोसेफ वू (AP)

ऑस्ट्रेलिया के न्‍यूज चैनल एबीसी न्‍यूज को दिए इंटरव्‍यू में ताइवान के विदेश मंत्री जोसेफ वू ने चेतावनी दी है कि चीन के साथ युद्ध का खतरा मंडरा रहा है. वू ने कहा, ‘ताइवान की रक्षा हमारे हाथ में है और उसे लेकर हम पूरी तरह प्रतिबद्ध हैं. मुझे पूरा यकीन है कि अगर चीन ताइवान पर हमला करता है तो उन्हें खासा नुकसान उठाना पड़ेगा.

अधिक पढ़ें ...

    ताइपे. ताइवान और चीन के बीच तनाव (China Taiwan Tension) अब बढ़ता ही जा रहा है. ताइवान (Taiwan) की विदेश मंत्री ने एक इंटरव्‍यू में चीन को युद्ध के प्रति आगाह किया है. ताइवान के विदेश मंत्री जोसेफ वूने ने कहा है कि चीन की सेना उन्हें छेड़ने की कोशिश न करें. वरना ताइवान भी उन्हें छोड़ेगा नहीं. चीन ने अगर उनके देश पर हमला किया, तो फिर युद्ध का बराबर जवाब दिया जाएगा.

    ऑस्ट्रेलिया के न्‍यूज चैनल एबीसी न्‍यूज को दिए इंटरव्‍यू में ताइवान के विदेश मंत्री जोसेफ वू ने चेतावनी दी है कि चीन के साथ युद्ध का खतरा मंडरा रहा है. वू ने कहा, ‘ताइवान की रक्षा हमारे हाथ में है और उसे लेकर हम पूरी तरह प्रतिबद्ध हैं. मुझे पूरा यकीन है कि अगर चीन ताइवान पर हमला करता है तो उन्हें खासा नुकसान उठाना पड़ेगा.’ इसके साथ ही उन्‍होंने ऑस्‍ट्रेलिया से मदद भी मांगी है.

    गौरतलब है कि चीन ने हाल ही में ताइवान के इर्दगिर्द अपनी सैन्य गतिविधियां तेज कर दी हैं, जिस कारण इलाके में काफी चिंता का माहौल है. पिछले हफ्ते चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के 120 से ज्यादा विमान ताइवान के एयर डिफेंस आईडेंटिफिकेशन जोन में उड़ान भरते देखे गए थे.

    बीते शनिवार को चीन का राष्ट्रीय दिवस था. उसी दिन पीएलए के 39 विमान ताइवानी इलाके में उड़ान भरकर आए. इनमें परमाणु हथियार ले जा सकने वाले लड़ाकू विमान भी शामिल थे. इस घटना की ताइवान के अलावा अमेरिका ने भी निंदा की थी.

    सोमवार को ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि पीएलए के 50 से ज्यादा विमानों ने उनके क्षेत्र में प्रवेश किया, जो अब तक की सबसे बड़ी गतिविधि थी. पीएलए के विमान द्वीपीय देश ताइवान की सीमा के 200 से 300 किलोमीटर दूर तक पहुंच गए थे, जो ताइपे के लिए परेशान करने वाला है. ताइवान कई बार कह चुका है कि उसे चीन के हमले का डर सता रहा है.

    चीन मामलों के विशेषज्ञ, मेलबर्न यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर प्रदीप तनेजा कहते हैं कि ताइवान का यह डर झूठा नहीं है. प्रोफेसर तनेजा ने कहा, ‘चीन ने ऐसा कभी नहीं कहा है कि वह ताईवान पर शक्ति का इस्तेमाल नहीं करेगा. चीन का मकसद है ताइवान को अपने अंदर मिलाना. उसने कहा है कि उसके लिए ताकत इस्तेमाल करनी पड़ती है तो वह करेगा.’ (एजेंसी इनपुट के साथ)

    Tags: China, Taiwan

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर