रूस में तालिबान ने किया दावा- अफगानिस्तान का 85 प्रतिशत इलाका हमारे कब्जे में

कॉन्सेप्ट इमेज.

तालिबान (Taliban) ने मॉस्को में दावा किया है कि अफगानिस्तान (Afghanistan) का 85 प्रतिशत हिस्सा उसके नियंत्रण में आ गया है. स्थानीय अधिकारियों ने भी बताया है कि 5 पड़ोसी देशों से लगी सीमा पर तालिबान का कब्जा है.

  • Share this:
    काबुल. करीब 20 साल तक डटे रहने के बाद अमेरिकी सेना अफगानिस्तान (Afghanistan) को छोड़कर जा चुकी है. अब मॉस्को में तालिबान (Taliban) ने डंके की चोट पर ऐलान किया है कि देश का 85 प्रतिशत इलाका उसके कब्जे में है. स्थानीय अधिकारियों ने भी माना है कि अफगानिस्तान और ईरान की सीमा पर व्यापार के लिहाज से अहम इस्लाम खाला कस्बा भी तालिबान के हत्थे चढ़ गया है. अधिकारियों ने बताया है कि इस्लाम काला के साथ-साथ तुर्कमेनिस्तान से लगा तोरघुंडी कस्बा भी तालिबान के कब्जे में चला गया है. दोनों कस्बे हेरात प्रांत में आते हैं.

    आरियाना न्यूज के मुताबिक इसके साथ ही, ईरान, तुर्कमेनिस्तान, चीन, तजाकिस्तान और पाकिस्तान से लगी इसकी सीमाओं पर तालिबान काबिज हो गया है. हेरात के कस्टम विभाग में सीनियर अधिकारी निसार अहम नासेरी के मुताबिक इस्लाम काला के तालिबान के हाथों में जाने के बाद सभी गतिविधियां रोक दी गईं. वहीं, मॉस्को में शुक्रवार को तालिबान के अधिकारी शहाबुद्दीन देलावर ने देश के 85 प्रतिशत हिस्से पर कब्जे का दावा किया है. इससे पहले सूत्रों ने TOLO न्यूज को बताया था कि सुरक्षाबल सीमा पार कर ईरान चले गए.

    इसी बीच अफगान सरकार और तालिबान का एक प्रतिनिधिमंडल मॉस्‍को पहुंचा है जहां पर दोनों पक्षों के बीच बातचीत होगी. माना जा रहा है कि तालिबान नेता रूस पहुंचकर पुतिन प्रशासन को यह आश्‍वासन देना चाहते हैं कि अगर वे सत्‍ता में आए तो रूस और मध्‍य एशिया में उसके सहयोगियों को कोई खतरा नहीं होगा.

    ये भी पढ़ें: अफगानिस्तान में तालिबान के उभार से टेंशन में रूस और चीन, आतंकवाद का बढ़ सकता है खतरा

    रूस के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि रूस के अफगानिस्‍तान में राजदूत जमीर काबुलोव ने ताल‍िबान के प्रतिनिधिमंडल से बातचीत की है. रूसी राजदूत ने उत्‍तरी अफगानिस्‍तान में हिंसा में तेजी और तनाव पर चिंता जताई है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.